news-details

शराब दुकान के लापरवाह चौकीदार से त्रस्त थानेदार !

प्लेसमेन्ट कंपनी के कर्मचारियों की लापरवाही के चलते चोरी की घटना को अंजाम दिया जा रहा है, कंपनियों द्वारा तैनात किये गए कर्मचारी इतने लापरवाह है कि इन्हें कोई चौकीदारी के समय पर ताला मार चला जाता है. डर इतना कि इन्हें अपने साथ परिजन को रखना पड़ता है.  

मामला 7 जुलाई का है जब चौकीदार की लापरवाही के चलते बसना थाना अंतर्गत गढ़पटनी मार्ग में स्थित अंग्रेजी शराब दुकान से चोरी हो गई. फिलहाल अज्ञात चोरों के विरुद्ध पुलिस ने प्रथमिकी दर्ज कर लिया है. जानकारी के अनुसार कुल 9,57,030 रुपये अज्ञात चोरो द्वारा चोरी कर ली गई. जिसके बाद 12 जुलाई को आबकारी के उपनिरीक्ष सत्यनारायण साहू द्वारा बसना थाना प्रभारी राकेश खुटेश्वर को कुल 41 पन्नों का जाँच प्रतिवेदन दी गई जिसमे लगभग 10 लाख रूपए की चोरी होना बताया गया है.

यह 10 लाख रुपये के शराब की बिक्री कुल 2 दिनों में हुई थी, जिसमे 6 की रात को लगभग 4 लाख रुपये और 7 की रात को लगभग साढ़े पांच लाख की शराब आबकारी विभाग द्वारा बेचीं गई थी. 

जानकरी के अनुसार अज्ञात चोरों द्वारा शराब दुकान के परीसर के अंदर आराम फरमा रहे चौकीदारों को पहले तो बहार लॉक कर दिया गया. उसके बाद चौकीदारों की गहरी नींद का फायदा उठाकर शराब दुकान का ताला तोड़ा और सी.सी टीवी को निष्क्रिय किया.

यह हैरान करने वाली बात है कि प्लेसमेन्ट कर्मचारी जिनकी तैनाती रात के समय में होनी थी वो कमरे में सोये थे और इतनी गहरी नींद में सोये थे कि ताला तोड़ने पर कोई आवाज ही नही आई. जबकि सी.सी. टीवी कैमरा को उखाड़ कर आलमारी से पैसों से भरा हुआ बैग को ले गए.

महासमुन्द जिले में शराब दुकानों की चोरी की घटना कोई नई घटना नहीं है इसके पहले पिरदा शराब दुकान में भी चोरी हो चुकी है चोरी के बाद से वहां 2 चौकीदार रखा गया. इसके बावजूद बीती रात जब बसना थाना प्रभारी द्वारा अचानक रात में दौरा किया गया तो पता चला कि पिरदा के शराब दुकान में एक चौकीदार सोया हुआ था ,और उस चौकीदार के साथ-साथ उसका परिजन भी सोया हुआ था.

बताया गया कि गस्त के दौरान अंग्रेजी शराब दुकान चेक करने पर गार्ड उत्तम नन्द पिता बोधन नन्द उम्र 32 साल शराब दुकान के बाहर बिना वर्दी और डंडा के साथ सोया हुआ था. और अपने एक रिश्तेदार को भी रखा था.

अंग्रेजी शराब दुकान के गार्ड उत्तम नन्द से बात करने पर बताया कि पिरदा में 2 गार्ड थे. लेकिन बसना के गढ़पटनी मार्ग में स्तिथ शराब दुकान में गार्डो की कमी के चलते एक गार्ड को वहां भेज दिया गया. जिसके बाद पिरदा के शराब दुकान में गार्ड को रात को अकेले रहने में डर लग रहा था, जिस कारण अपने परिजन को वह साथ ले गया.

पिरदा के गार्ड ने बताया कि उसे आधार कार्ड लेकर पुलिस थाना बसना बुलाया गया है, वही बसना पुलिस थाना का कहना है की प्लेस मेन्ट कंपनी के कर्मचारी ठीक से कार्य नही कर रहे है. बिल्कुल जिम्मेदारी नही है किसी भी कर्मचारी या गार्ड को जरा भी डर और जिम्मरदारी नही है. जिसके वहज से हम लोगो को ज्यादा परेशानी हो रही है.

ज्ञात हो कि बसना थाना अंतर्गत लगभग 238 गाँव आते है जिसमे भंवरपुर चौकी भी शामिल है, जबकि शराब दुकानें पिरदा, गढ़फुलझर, बसना और भंवरपुर शामिल है इसके अलावा भी थाना क्षेत्र में कुछ रात्रि गस्त ग्राम है.      

वहीं शराब दुकानो में गार्ड रहते हुए भी चोरी की घटना को प्लेसमेन्ट कम्पनी का गैर जिम्मेदाराना माना जा रहा है.