news-details

विश्वसनीयता की पहचान बनाता छ.ग. जर्नलिस्ट वेलफेयर यूनियन में सदस्यों की संख्या हुई 1000 के पार.

इंडियन ट्रेड यूनियन एक्ट 1926 के अंतर्गत छ.ग. जर्नलिस्ट वेलफेयर यूनियन का गठन किया गया है । छ्ग जर्नलिस्ट वेलफेयर यूनियन प्रदेश के पत्रकारों का सबसे विश्वसनीय व बड़ा संगठन है ।

छ्ग जर्नलिस्ट वेलफेयर यूनियन का गठन दिनांक 9 दिसंबर 2018 को एक राजनादगांव में आमसभा आयोजित कर प्रदेश के पत्रकारों की सहमति से किया गया,क्योंकि पत्रकारों को जरूरत थी एक विश्वसनीय संगठन की जो कथनी और करनी में अंतर ना कर सके जो संगठन पत्रकारों के वास्तविक हित के लिए कार्य करें व यूनियन से जुड़े पत्रकारों को यूनियन से सीधा फायदा मिल सके ।

इसी उद्देश्य को लेकर प्रदेश के पत्रकारों ने प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार अमित गौतम जिन्हें यूनियनों का अच्छा अनुभव है को यूनियन का प्रदेश अध्यक्ष निर्वाचित किया वहीं बसना जिला महासमुंद के वरिष्ठ पत्रकार सेवक दास दीवन को यूनियन का महामंत्री निर्वाचित किया गया।

इस यूनियन को मुख्य रूप से आशीर्वाद देने वालों में प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार श्री एनआरके पिल्लई, सीएल जैन सोना, रमेश खंडेलवाल,उदय मिश्रा,महेश आचार्य,बी एस प्रसाद रहे ।यूनियन ने अब तक प्रदेश के 17 जिलों में गठन किया है अब तक यूनियन में लगभग 1000 पत्रकारों ने अपनी आस्था जताते हुए यूनियन की सदस्यता ग्रहण की । यूनियन अपने सदस्यों को यूनियन का परिचय पत्र देने के साथ ही एक लाख का दुर्घटना बीमा भी तत्काल देता है यूनियन ने अब तक प्रदेश के बड़े हॉस्पिटल जिसमें श्री बालाजी मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल मोवा, बालाजी हॉस्पिटल टिकरापारा, बालाजी ट्रामा सेंटर कोरबा, बालाजी हॉस्पिटल रायगढ़, जीवन रेखा हॉस्पिटल राजनांदगांव,वी वाय हॉस्पिटल दुर्ग,श्री डायग्नोसिस सेंटर दुर्ग, बीएआरसी रिसर्च सेंटर हॉस्पिटल बिलासपुर को यूनियन से अनुबंध कर के अपने यूनियन के पत्रकार साथियों उनके परिवारों को सीधे तौर पर उचित इलाज व लाभ दिला रहा है साथ ही आगामी रूपरेखा बस से अनुबंध कर यात्रा में भी उन्हें सुविधा दिलाना रेलवे की यात्रा में उन्हें सुविधा दिलाना टोल से मुक्ति दिलाना सहित तमाम मुद्दे शामिल हैं संघ की गतिविधियों से प्रदेश के अन्य पत्रकार संघ सकते में हैं क्योंकि उन्होंने केवल और केवल राजनीति करके अपना उल्लू सीधा किया अगर पूर्व के यूनियन सही दिशा में कार्य किए होते तो प्रदेश में अब तक पत्रकार सुरक्षा कानून सहित अन्य लाभ प्रदेश के पत्रकारों को मिल चुका होता । केवल व केवल चंदाचकारी कर सम्मेलन के नाम से प्रदेश के पदाधिकारियों ने अपना अपना घर भरा व पत्रकारों को गुमराह करते रहे लेकिन छ.ग. जर्नलिस्ट वेलफेयर यूनियन अपने किए गए हर वादे को पूरा करने के लिए कृत संकल्पित है,क्योंकि जिस तरह अल्प समय में ही प्रदेश के पत्रकारों ने जर्नलिस्ट वेलफेयर यूनियन पर अपनी आस्था जताई है उनकी आस्था को बनाए रखना जर्नलिस्ट वेलफेयर यूनियन के प्रदेश पदाधिकारियों के लिए उनका परम कर्तव्य है आने वाले समय में प्रदेश सम्मेलन आयोजित कर रायपुर में मुख्यमंत्री सहित तमाम मंत्रियों को बुलाकर पत्रकार सुरक्षा समिति की बात की जाएगी साथ ही हर जिले में पत्रकारों के आवास के लिए भूखंड की मांग व अधिमान्यता जिला व ग्रामीण स्तर पर भी शीघ्र अतिशीघ्र करने की मांग मंच के माध्यम से किया जाएगा ।

अब तक गठित जिलों में राजनांदगांव,दुर्ग,कवर्धा,धमतरी, महासमुंद, कोरबा, कांकेर, दंतेवाड़ा, बीजापुर, सुकमा,कोंडागांव, बिलासपुर, मुंगेली,जांजगीर चांपा,रायगढ़, बलोदाबाजार आदि प्रमुख है। अन्य जिलों का विस्तार भी शीघ्र ही किया जाएगा ।

अमित गौतम के नेतृत्व में बढ़ता यूनियन

विगत 20 वर्षों से पत्रकारिता कर रहे राजनादगांव के वरिष्ठ पत्रकार अमित गौतम के नेतृत्व में यूनियन लगातार मजबूत होकर आगे बढ़ रहा है । पत्रकारिता व समाजसेवा के क्षेत्र में अपनी एक विशिष्ट पहचान रखने वाले साफ़ छवि के अमित गौतम में दूरदृष्टि है जिसकी वजह से यूनियन इतने अल्प समय में इतनी मजबूती से प्रदेश में स्थापित हो सका ।