news-details

कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर आंवला भोज का आयोजन

भंवरपुर। कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर ग्राम उड़ेला में व्याख्याता विजेन्द्र सिंह सिदार के निवास में आंवला भोज का आयोजन किया गया। ऋषिकेष वैष्णव द्वारा पूजा सम्पन्न कराने के पश्चात आंवला वृक्ष एवं उसके पूजन के महत्व को बताया गया। इस दौरान सिदार परिवार के अलावा व्याख्याता एवं रासेयो कार्यक्रम अधिकारी एनके दीवान भी सपरिवार सम्मिलित हुये। गौरतलब है कि कार्तिक महिने भर प्रातः स्नान , रात्रि में कार्तिक पुराण श्रवण एवं सात्विक व्यवहार अपनाने के साथ ही बैकुंठ चतुर्दशी के दिन आंवला वृक्ष का पूजन एवं उसके नीचे भोजन करने तथा रात्रि जागरण कर भगवद भक्ती में लीन रहने की परंपरा है। ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी पूर्वजों की इस परंपरा का अनुसरण करते आ रहे हैं।