news-details

शांत्रीबाई महाविद्यालय महासमुन्द के विद्यार्थियों ने वृद्धजनों का जाना हालचाल

हमे अपने बुजुर्गजनो का ख्याल रखना चाहिए उनके साथ रहना उनका सानिध्य अनुभव हमें जिंदगी के पाठ सिखाता है जिससे हमें अपने जीवन को सफल सुखमय बना सकते हैं. शांत्री बाई कला वाणिज्य एवं विज्ञान महाविद्यालय के शिक्षा विभाग के विद्यार्थियों को विभाध्यक्ष श्रीमती रंजू प्रजापति संबोधित कर रही थी विभाग के विद्यार्थियों ने श्रीमती रंजू प्रजापति के नेतृत्व में दलदली रोड स्थित आशियाना वृद्ध आश्रम भ्रमण किया जहां उन्होंने वृद्धजनों का हालचाल जाना एवं उन्हें फल फूल वितरित किए उनकी समस्याएं पूछी. विद्यार्थियों ने वृद्धजनों का दर्द समझ कर भावुक हो गए वृद्धजनों ने विद्यार्थियों के आगमन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि जब भी कोई उनसे मिलने जुलने आता है घर परिवार का माहौल पाकर बड़ा सुकून मिलता है।

विद्यार्थियों शिक्षको ने वृद्धजनों की समस्याओं को यथासंभव निराकरण किया

विभाध्यक रंजू प्रजापति इस अवसर पर विद्यार्थियों से कहा की बुजुर्ग जन खुली किताब है इनका साधन अनुभव हमें जिंदगी के पाठ सीखने के साथ जीवन को सुखमय बनाता है श्रीमती नम्रता देवांगन ने कहा कि बुजुर्गों की सेवा से पुण्य प्राप्त होता है.