news-details

सातवीं आर्थिक गणना-2019 कार्य में करें सहयोग

महासमुंद, 02 दिसम्बर 2019/भारत सरकार सांख्यिकी कार्यक्रम एवं कार्यनवयन मंत्रालय नई दिल्ली के निर्देशानुसार सातवीं आर्थिक गणना का कार्य सम्पूर्ण भारत देश में किया जा रहा है। जिले में सातवीं आर्थिक गणना के क्षेत्रीय कार्य ई-गवर्नेस सर्विस इंडिया लिमिटेट के (कामन सर्विस सेंटर)के चयनित प्रगणक द्वारा 31 दिसम्बर 2019 तक सम्पन्न किया जाएगा। जिला योजना एवं सांख्यिकीय विभाग के उपसंचालक श्री एम तिर्की ने बताया कि आर्थिक गणना में परिवार के आर्थिक गतिविधियों, क्रिया-कलाप के संबंध में उद्योगों,उद्यमों,दुकानों,कारखानों हस्तशिल्प आदि की जानकारी मोबाईल ऐप्प के माध्यम से पेपर लेस एकत्रित किया जाना है। आर्थिक गणना कार्य पर जानकारी दर्ज किए जाने क्षेत्रीय कार्य के मानिटिरिंग का कार्य राज्य के कामन सर्विस सेंटर के कर्मचारी, राट्रीय न्यायादर्श सर्वेक्षण के अधिकारी, कर्मचारी द्वारा किया जाना है। आर्थिक गणना के आकड़ों से देश की आर्थिक गतिविधियों का पता चलता है। गणना से प्राप्त डाटा का उपयोग भारत सरकार तथा राज्य सरकार के द्वारा योजना एवं नीति निर्धारण के कार्य में किया जाएगा। साथ ही सर्वेक्षण से प्राप्त उद्योगों, उद्यमों की जानकारी उद्यमियों को पंजीकृत करने में सहयोग प्रदान करेगा। प्राप्त डाटा का उपयोग किसी प्रकार का टेक्स वसूली से संबंधित नहीं है, तथा आर्थिक गणना से एकत्रित समस्त जानकारी पूर्णतः गोपनीय रखी जाएगी। आर्थिक गणना से प्राप्त डाटा का उपयोग भारत सरकार तथा राज्य सरकार द्वारा योजना, नीति निर्माण के कार्य में किया जाएगा। सातवीं आर्थिक गणना के सर्वेक्षण के दौरान भारत सरकार के मंशानुसार प्रत्येक परिवार के आर्थिक आंकड़े जुटाने के लिए समस्त आम नागरिकों, जनता से प्रगणक को सहयोग करने की अपील की जाती है।