news-details

मिशन इंद्रधनुष 2.0 पहले दिन से सुपरहिट, पहले ही दिन कुल 107 में 107 सत्र सफलता पूर्वक संपन्न

कुल लक्षित 263 बच्चों में 258 का हुआ टीकाकरण

118 लक्षित गर्भवती महिलाओं में भी आंकड़ा 116 तक पहुंच गया

‘‘टीकाकारण के पिछले अभियान से बेहतर हुई शुरूआत में इस बार मिशन इंद्रधनुष 2.0 में उमड़ा जन सैलाब

 एक भी जच्चा बच्चा वंचित न रह जाए का फॉर्मूला सच करने की दिशा में सरकार के साथ पालक भी बराबरी से रुचि लेते नजर आए’’

महासमुंद, 02 दिसम्बर 2019/ शून्य से दो बर्ष तक के बच्चों और गर्भवती महिलाओं का निशुल्क वैक्सीनेशन करने वाली नवीनीकृत योजना मिशन इंद्रधनुष 2.0 की शुरूआत सोमवार से कर दी गई है। आज सुबह से देर शाम हितग्रारहियों के आने तक तक जिले भर के 107 आंगनबाड़ी सत्रों में उन जागरूक पालकों का तांता लगा रहा ए जो अपने शिशुओं और गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए सजग हैं। दरअसलए पूर्व निर्धारित तिथि क्रमानुसार एक बार पुनः वृहद स्तर पर छिडे़ टीकाकरण अभियान में शामिल हो स्थानीय निवासियों ने जारूकता का परिचय दिया। फलस्वरूप चार चरणों में दो मार्च तक चलने वाले इस अभियान को पहले ही दिन 258 बच्चों और 116 गर्भवती महिलाओं का सफलतापूर्वक टीककारण किया गया। कुल निर्धारित लक्ष्य के अनुपात में टीकाकरण का आंकड़ा करीब 96 से 99 फीसदी के आसपास आंका गया। विभागीय कर्मचारियों के साथ हितग्राहियों का रूझान देखते हुए मिशन इंद्रधनुष 2.0 को पहले ही दिन से हिट करार दिया जाने लगा है। आपको बता दें कि भारत सरकार के केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी बच्चों को टीकाकरण के अंतर्गत लाने के लिये श्ष्मिशन इंद्रधनुष को सुशासन दिवस के अवसर पर 25 दिसंबर 2014 से प्रारंभ किया गया था। संशोधित हो चुके नवीनीकृत संस्करण में अभियान का क्रियान्वयन जिला स्तर पर दो दिसंबर 2019 से पुनः शुरू कर दिया गया है। जिसमें कलेक्टर श्री सुनील कुमार जैन भी विशेष रुचि ले रहे हैं। श्री जैन के निर्देशन में मुख्य चिकित्या एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एसपी वारे के मार्गदर्शन में युद्ध स्तर पर अभियान का आगाज किया गया है। जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्री संदीप ताम्रकार से मिली जानकारी के मुताबिक आला अधिकारियों ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि इस बार अभियान में वर्ष 2020 तक 90 फीसदी टीकाकरण का लक्ष्य पूर्ण करना अनिवार्य है। आरएमएनसीएच सलाहकार डॉ मुकुंद राव ने बताया कि यह अभियान बच्चों में आम.तौर पर देखी जाने वाली डिफ्थीरिया बलगम टिटे्नस पोलियो तपेदिक खसरा व हेपिटाइटिस-बी जैसी समस्याओं से बचाएगा। मास्टर प्लान तैयार कर क्रियान्वयन हेतु जारी ड्यू लिस्ट के आधार पर ही टीकाकरण किया जा रहा है। पहले ही दिन उम्मीद से अधिक लोगों ने शासन की इस सुविधा का लाभ लिया। जिसे देख कर योजना अंतर्गत शतप्रतिशत् लक्ष्य पूर्ति प्राप्त कर लेने के अनुमान लगाए जा रहे हैं।

दी जा रही टाइम.फ्लैक्सिबिल्टी की सुविधा

अभियान में चयनित क्षेत्र जैसे हाई रिस्क एरियाए अर्बन स्लम एरियाए हार्ड.टू.रीच व घुमन्तु एरियाए सहित ईट भट्ठा के रहवासियों पर विशेष जोर दिया जा रहा है। साथ ही उनके काम.काज और पारिवारिक दायित्व दोंनों के मद्देनजर रखते हुए समय की बाधा दूर कर सुबह से देर शाम तक सेवाएं प्रदाय की जा रही हैं। इससे पालक काम पर जाने के पहले अथवा वापस आने के बाद जब भी समय मिले टीकाकरण करवा सकते हैं।