news-details

नक्सलियों का बयान- “हम मीडिया पर हमला नहीं करना चाहते.”

हाल ही में छत्तीसगढ़ के दंतेवाडा में हुए नक्सली हमले पर नक्सलियों ने बयान जरी किया है. नक्सलियों का कहना है की मीडिया को टारगेट करनें का उनका कोई इरादा नहीं था, मारे गये दूरदर्शन के कैमरामैन की हत्या एम्बुस में फंस जानें के कारण गोलीबारी के दौरान हुई है.

हालांकि दंतेवाडा के एसपी ने नक्सलियों के इस बयान को झूठा बताया. एसपी का कहना है की "कैमरा क्यों लूटा गया...? क्योंकि उसमें टारगेटेड मीडिया एम्बुश की शुरुआती मिनटों की घटनाएं सबूत के तौर पर रिकॉर्ड हो गई थीं... शहीद कैमरामैन के शरीर पर गोलियों के कई घाव और खोपड़ी की हड्डी का टूटा होना किसी भी तरह ये संकेत नहीं देता कि ऐसा गलती से हुआ..."