news-details

अवार्ड के लिए केंद्रीय दल ने पोषण पुनर्वास केंद्र एवं हेल्थ वेडनेस डे का किया निरीक्षण

महासमुंद. प्रधानमंत्री अवार्ड के लिए केंद्रीय प्रतिनिधि मंडल के अभिजीत चक्रवर्ती आज जिला चिकित्सालय महासमुंद के पोषण पुनर्वास केंद्र एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बिरकोनी का हेल्थ वेडनेस डे का निरीक्षण किया. हेल्थ वेडनस डे स्वस्थ लाइका जागरूक महतारी कार्यक्रम का प्रारंभ जिले में कुपोषण से मुक्ति दिलाने हेतु प्रारंभ की गई थी, जिसमें प्रत्येक बुधवार को गंभीर कुपोषित बच्चों की जांच प्रत्येक स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सकों द्वारा की जाती है. इसमें आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के द्वारा कुपोषित बच्चों की पहचान कर स्वास्थ्य केंद्रों में लाया जाता है, जहां पर बच्चों की गंभीर कुपोषण का चिन्हांकन कर पोषण पुनर्वास केंद्र में भेजा जाता है.

जिला चिकित्सालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार हेल्थ वेडनेस डे के तहत स्वास्थ्य केंद्रों में जांच के लिए आए कुपोषित बच्चों को जिला खनिज निधि के सहयोग से खिचड़ी, अंडा, केला आदि प्रदान किया जाता है. इस योजना के प्रारंभ के बाद पोषण पुनर्वास केंद्र में बच्चों की भर्ती अधिक होने लगी तथा बाल संदर्भ योजना का भी लक्ष्य पूरा होता गया. वर्तमान में पूरे प्रदेश में महासमुंद जिले में पोषण पुनर्वास केंद्र का संचालन स्वास्थ्य अंक के आधार पर सबसे ऊपर है. पिछले 6 माह से महासमुंद जिला प्रथम स्थान पर है. 

कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने हेल्थ वेडनेस डे के माध्यम से सभी गंभीर कुपोषित बच्चों को लाभान्वित कर जिले को कुपोषण से मुक्ति दिलाने हेतु प्राथमिकता से कार्य करने के निर्देश महिला बाल विकास विभाग एवं स्वास्थ्य विभाग को दिए हैं. इस अवसर पर जिला चिकित्सालय के सिविल सर्जन डॉ राकेश कुमार परदल, जिला कार्यक्रम प्रबंधक संदीप ताम्रकार, जिला कार्यक्रम अधिकारी विजेंद्र सिंह ठाकुर, जिला सूचना एवं प्रौद्योगिकी अधिकारी आनंद सोनी उपस्थित थे.    

शेयर करें