news-details

पर्यटन मंत्रालय ने लद्दाख में अपने तरह का प्रथम साहसिक ट्रेकिंग प्रशिक्षण पाठ्यक्रम शुरू किया

लद्दाख में पर्यटन के विकास के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के दृष्टिकोण के अनुसरण में तथा केन्द्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री प्रह्लाद सिंह पटेल के नेतृत्व में, भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय के भारतीय स्कीइंग एण्ड माउंटेनियरिंग संस्थान (आईआईएसएम) गुलमर्ग ने पर्यटन मंत्रालय के स्वायत्त संस्थान - भारतीय यात्रा एवं पर्यटन प्रबंधन संस्थान (आईआईटीटीएम) के सहयोग से ट्रेकिंग के क्षेत्र में एक साहसिक पर्यटन प्रशिक्षण पाठ्यक्रम शुरू किया है।

इस क्षेत्र में यह अपने तरह का पहला पाठ्यक्रम है, जिसमें दस दिनों के प्रशिक्षण पाठ्यक्रम में स्थानीय युवाओं को माउंटेन ट्रेकिंग के विभिन्न पहलुओं के बारे में प्रशिक्षित किया जा रहा है और उन्हें इसका व्यावहारिक अऩुभव प्रदान किया जा रहा है। पहले बैच में 30 से अधिक स्थानीय युवाओं को प्रवेश दिया गया है, जो 29 सितंबर, 2019 को शुरू हुआ। तीन बैचों में लगभग 90 स्थानीय युवाओं को प्रशिक्षित किया जाएगा।

प्रशिक्षण कार्यक्रम 12 अक्टूबर, 2019 को पूरे होंगे। संक्षिप्त विवरण के साथ ट्रेकिंग कार्यक्रम शुरू हुआ, जिसमें स्पीथु, थेन, जिनचेन, रूम्बाक, स्टॉक ला बेस, स्टॉक के भागीदार 10 दिनों में लेह पहुंचेंगे। युवाओं में ट्रेकिंग के मूलभूत कौशल विकसित करना इस प्रशिक्षण का लक्ष्य है। बाद में ये युवा गाइड अथवा उद्यमी बनने में इन कौशलों का उपयोग कर सकेंगे।