news-details

स्वालंबी बनने हेतु निरमा, साबुन और मोमबती का उत्पादन कर रही है महिला स्व साहयता समूह.

गाँव के महिला स्व साहयता के सदस्यों द्वारा बनाए जा रहे उत्पादन को देखकर सभी तरफ सराहाना किया जा रहा है.  शासकीय योजनाओं से लाभान्वित करने के प्रयास और महिलाओं में भी विभिन्न ट्रेड में प्रशिक्षण उपलब्ध कराने के बाद इसका असर देखने को मिला बसना विकासखण्ड अंतर्गत ग्राम भैंसाखुरी में, जहाँ एक स्व सहायता के महिलाओं द्वारा बनाकर प्रोडक्ट का निर्माण किया जा रहा है.

भैसखुरी के ग्राम संघठन संस्कार महिला स्व सहायता समूह द्वारा बनाए जा रहे नाम Tiger exel, expert wash डिटर्जन पावडर, मोमबत्तियां, रॉयल सुपर वास, टॉयलेट क्लीनर जैसे प्रोडक्ट का उत्पादन घर में ही किया जा रहा है.

भैसा खुरी के महिला स्व सहायता ग्राम संस्कार समिति के अध्यक्ष सहोद्रा चौहान, सचिव भामा बाई जगत, कोषाध्यक्ष पुष्पा निर्मलकर सहित 10 महिला मिलकर इन प्रोडक्ट का निर्माण करती है और स्वालम्बी बनने का प्रयास आज भी जारी है. और साथ ही प्रोडक्ट को सही जगह औऱ सही दाम दिलाने की कोशिश की जा रही है.

शासन के माध्यम से भी महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से ऐसे महिला स्व साहयता समूह के लिए शासन से साहयता राशि प्रदान की जा रही है. वही जिला प्रशासन के पहल पर आदिमजाति कल्याण विभाग के छात्रावासों एवं आश्रमों में महिला स्वसहायता समूह द्वारा बनाए गए साबुन, निरमा एवं अन्य उत्पादन को उपल्बध कराने कहा है. इसी तरह महिला स्वसहायता समूह के विभिन्न उत्पादनों के बिक्री के लिए सभी विभागों का सहयोग करने भी कहा गया है.

वहीं इस महिला स्वसहायता समूहों को अपने प्रोडक्ट को गाँव-गाँव पहुँचाने के लिए ई-रिक्शा की जरुरत महसूस की जा रही है, जिससे कि उत्पादन सामग्री को ग्रामीण अंचलों में भी जाकर बिक्री आसानी से की जा सके.

महिला बाल विकास विभाग के बसना के मुख्य अधिकारी चंद्रहास नाग से बात करने पर कहा की भैंसाखुरी के महिला समिति के बारे में पता चला है, महिलाएं बहुत ही उच्च गुणवत्ता वाली प्रोड्क्ट का निर्माण कर रहीं है, इनके सामानों को बाजार में उतारने का हर सम्भव प्रयास और जिला प्रशासन से ममद दिलाने का प्रयास करूंगा. श्री चंद्रहास नाग ने कहा कि महिलाएं आज किसी भी क्षेत्र में किसी से पीछे नहीं है भैसाखुरी के महिलाओं ने गाँव मे रहकर प्रोडक्ट का निर्माण करके साबित कर दिया है की कुछ कर गुजरने की इच्छा शक्ति हो तो कुछ भी कार्य असम्भव नही है.