news-details

कोहली ने आखिरकार तोड़ ही डाला सचिन का रिकॉर्ड

भारतीय क्रिकेट के हीरो सचिन तेंदुलकर ने जब क्रिकेट के मैदान को अलविदा कहा था तब उनके नाम के साथ रिकॉर्ड्स की एक ऐसी लिस्ट पीछे छूटी थी जिसके आसपास तक भी पहुंचना किसा भी क्रिकेटर के लिए सपने के समान होता है. रिटायरमेंट के बाद एक बार जब सचिन से पूछा गया कि वह किसे अपने रिकॉर्ड्स तोड़ने के लिए ज्यादा सक्षम समझते हैं तो उन्होंने टीम इंडिया के रोहित शर्मा और विराट कोहली का नाम लिया था.

विराट कोहली अपने करियर में ठीक उसी तरह आगे बड़ रहे रहैं जैसी सचिन ने उनसे उम्मीद की थी और वेस्टइंडीज के खिलाफ वाइजैग वनडे में कोहली ने वनडे क्रिकेट में 10,000 रन के उस विराट शिखर को भी छू लिया जहां सबसे पहले पहुंचने का क्रेडिट सचिन तेंदुलकर के नाम है. साथ ही बड़ी बात यह है कि कोहली मे सचिन से भी तेज 10,000 रन पूरे किए हैं.

कोहली ने 205 वनडे मुकाबलों में यह मुकाम हासिल किया है जबकि सचिन ने 259 पारियों मं यह मुकाम हासिल किया था. यानि सचिन से 54 पारियां कम खेलकर उन्होंने य़ह मुकाम हासिल किया है.

सचिन और कोहली के अलावा भारत के लिए सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़ और एमएस धोनी भी वनडे क्रिकेट में 10,000 रन पूरे कर चुके हैं.

हालांकि कोहली 10,000 रन तक पहुंचने वाले सबसे .वा बल्लेबाज नहीं बन सके हैं. .यह रिकॉर्ड अब बी सचिन ते ही नाम है, सचिन ने 27 साल 341 दिन की उम्र मे यह रिकॉर्ड बनाया था जबकि कोहली 29 साल 317 दिन की उम्र में इस मुकाम पर पहुंचे हैं.

यह नहीं कोहली ने इस मुकाबले में सचिन का एक और रिकॉर्ड भी तोड़ा है. अब वह वऩे क्रिकेट में 4000 रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज भी बन गए हैं. सचिन ने यह मुकाम 92 पारियों में हासिल किया था जबकि कोहली ने 78 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की है.