news-details

जिंदगी और मौत की लड़ाई में हार गया युवा पटवारी...कोरोना से मौत..!आखरी SMS तहसीलदार को....लिखा था "मैं नही बचूंगा सर"..

तखतपुर तहसील ऑफ़िस सहित स्थानीय प्रशासन में हड़कंप मच गया जब एम्स रायपुर में भर्ती तखतपुर में पदस्त पच्चीस वर्षीय युवा पटवारी अशोक बघेल की ही कोरोना से मौत हो गई । तहसील ऑफ़िस में अब जुड़े अधिकारी कर्मचारी पटवारियों में कोरोंना का डर सताने लगा है। वही अधिकारी कर्मचारी एहतियात के तौर पर टेस्ट कराते रहते है। जबकिं संघ से जुड़े पटवारी अशोक बघेल को गत दिनो सर्दी खाँसी की समस्या हुई उन्होंने अपने ग्राम ज़र्हागाँव के समीप खम्ही में एहतियात के रूप में घर पर ही थे और तबियत बिगड़ने से वे खुद से कोरोंना टेस्ट कराने हॉस्पिटल पहुँचे जहां उसका कोरोना वायरस से संबंधित सैंपल लिया गया था जो पॉजिटिव निकला। 

उनकी तबियत में सुधार नहीं आने से उन्हें एम्स में ही थे लगातार तबियत बिगड़ते देख उन्हें तखतपुर तहसीलदार भुपेंद्र जोशी को अपने आख़री पल में Whatsupp में लिखा की मै नहीं बचूँगा सर वही तहसीलदार ने उनको हिम्मत रखने कहाँ जहां अब उनके मृत्यु की सूचना मिल सभी स्तब्ध रह गए वे कुछ दिन पूर्व से किसके किसके संपर्क में रहे उनकी भी जानकारी उनके द्वारा दी गई है तखतपुर से जुड़े सरकारी कर्मचारी में किसी कर्मचारी की मौत की पहली घटना है । इस घटना से तखतपुर क्षेत्र की जनता को एक बार फिर कोरोना का ख़ौफ सताने लगा है




ad

ad

ad

loading...