news-details

कलेक्टर श्री जैन ने सुराजी गांव योजना की गतिविधियों को प्राथमिकता से करने के दिए निर्देश

महासमुन्द 13 फरवरी 2020/कलेक्टर श्री सुनील कुमार जैन ने राज्य शासन के महत्वपूर्ण कार्यक्रम सुराजी गांव योजना के तहत नरवा, गरवा, घुरूवा एवं बाड़ी के गतिविधियों को सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ संबंधित विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए है। इनमें पशुओं का बधियाकरण एवं कृत्रिम गर्भाधान, टीकाकरण गौठान में कराया जाए, स्व-सहायता समूहों के माध्यम से वर्मी खाद तैयार कर बेचा जाए, रबी फसल एवं बाड़ी विकास कार्यक्रम गौठान वाले ग्राम पंचायतों में संचालित कर, जहां पानी की उपलब्धता है वहां मक्का एवं दलहन का उत्पादन कराया जाए। गौठान वाले ग्राम पंचायतों में चारागाह का निर्माण कराया जाए, जिसमें भूमि समतलीकरण एवं सीपीटी महात्मा गांधी नरेगा से तैयार कर शेष गतिविधियां गौठान प्रबंधन समिति, ग्राम पंचायत, वन, कृषि, पशु चिकित्सा एवं उद्यानिकी विभाग के माध्यम से संचालित किया जाए। संबंधित विभाग के अधिकारी आजीविका संबंधित गतिविधियों को प्रारंभ कर गौठान में मल्टी-युटिलिटी सेंटर तैयार कराएं। मुर्गी, बकरी, मछली पालन इकाई की स्थापना करने के लिए नाबार्ड अथवा अन्य योजनाओं से सब्सिडी प्राप्त कर व्यवसाय के रूप में गौठान वाले प्रत्येक ग्राम पंचायत में स्थापित करने के निर्देश दिए।