news-details

आपातकाल से लड़ने वाले जनसंघ के नेता जोगेन्द्र सिंग टाइगर का हुआ सम्मान, भेजे गए थे जेल

भाजपा जिलाध्यक्ष रूपकुमारी चौधरी व भाजयुमो प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पीयूष मिश्रा रहे उपस्थित…

25 जून 1975 को देश में लागू आपातकाल में बसना से जनसंघ में काम करने वाले नेता स्व. जयनारायण अग्रवाल व जोगेन्द्र सिंग टाइगर को जेल में यातनाएं झेलनी पड़ी थीं. उनकी बदौलत आज ब्लाक बसना में पार्टी एक मुकाम पर पहुंची है.

इंदिरा गाँधी द्वारा 1975 में आधी रात को लगाई गई आपातकाल में रातो रात कई जनसंघ के नेताओ को जेल में ठूस दिया गया था जिसमे बसना के मीसा बंदी जोगेन्दर सिंग टाइगर भी जेल में 18 महीने बिताये थे. कल भाजपा मंडल बसना द्वारा जोगेन्द्र सिंग टाइगर के निवास में उनका साल श्रीफल से भेंट कर सम्मान किया गया.

जोगेन्दर सिंग टाइगर ने आप बीती बात बताई कि किस प्रकार जेल में यातना दी गई, तथा कांग्रेस शासन के द्वारा हम लोगो के साथ अमानवीय ब्यवहार किया गया. उन्होंने यह भी बताया मैं जनसंघ के संस्थापक सदस्य स्व. जयनारायण अग्रवाल के साथ रायपुर जेल में 18 महीने बन्द था, व कई प्रलोभनों व समझौताओ को नकारते हुए पार्टी के प्रति अटल रहे, उनकी यह सारी आप बीती बातें सुनकर तथा पार्टी के प्रति इन सबकी निष्ठा एवं समर्पण देखकर वहां पर उपस्थित भारतीय जनता पार्टी के सारे कार्यकर्ता भावुक नजर आए साथ ही यह महसूस भी हुआ कि इन जैसे सारे महानुभावों के कारण ही भारतीय जनता पार्टी आज इस मुकाम पर पहुंची है. उनके कार्य,त्याग,और पार्टी के प्रति समर्पण को सभी ने सुना व आशिर्वाद लिया.

उनके निवास में मुख्य रूप से भाजपा जिलाध्यक्ष रूपकुमारी चौधरी ,ओमप्रकाश चौधरी ,भाजयुमो प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पीयूष मिश्रा,भाजपा बसना मंडल अध्यक्ष अनिल अग्रवाल ,महामंत्री अभिमन्यु जयसवाल,मंत्री नरेंद्र यादव,अभय घृतलहरे,भाजयुमो अध्यक्ष कामेश बंजारा, उपाध्यक्ष दीपेश मिश्रा व समी छाबड़ा जी उपस्थित रहे.


ad

loading...