news-details

भारत के लिए पहला ऑस्कर जीतने वाली भानु अथैया का 91 की उम्र में निधन

कॉस्ट्यूम डिजाइनर भानु अथैया का 91 साल की उम्र में निधन हो गया है। वह देश के लिए पहला ऑस्कर अवॉर्ड जीतने वाली महिला थी। पीटीआई के साथ बातचीत में भानु की बेटी राधिका ने बताया कि उनका एक लंबी बीमारी के बाद गुरुवार को अपने घर में निधन हुआ है।

भानु को साल 1982 में आई फिल्म गांधी के लिए ऑस्कर अवॉर्ड से नवाजा गया था। भानु का अंतिम संस्कार दक्षिण मुंबई के चंदनवाड़ी में किया गया है। राधिका गुप्ता ने अपनी मां के बारे में बात करते हुए कहा- उनका निधन हो गया था। आठ साल पहले उनके ब्रेन में ट्यूमर मिला था। पिछले तीन सालों से वे बेड पर ही थीं क्योंकि उनके शरीर के एक हिस्से में लकवा मार गया था।

बता दें कि भानु का जन्म कोल्हापुर में हुआ था और उन्होंने साल 1956 में लेजेंडरी डायरेक्टर गुरुदत्त की सुपरहिट फिल्म सीआईडी से अपने कॉस्ट्यूम डिजाइनर करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने बॉलीवुड के कई बेहतरीन निर्देशकों के साथ काम किया है।  

उन्हें मशहूर डायरेक्टर रिचर्ड एटेनबर्ग की फिल्म गांधी के लिए बेस्ट कॉस्ट्यूम डिजाइन का ऑस्कर अवॉर्ड मिला था। भानु के अलावा ये अवॉर्ड जॉन मोलो को भी मिला था। साल 2012 में भानु ने एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर्स आर्ट्स एंड साइंस को अपना ऑस्कर वापस लौटा दिया था ताकि इसे सुरक्षित तरीके से रखा जा सके।

भानु का करियर पांच दशक से भी लंबा रहा और उन्होंने 100 से भी अधिक फिल्मों में काम किया। भानु ने दो नेशनल अवॉर्ड्स भी हासिल किए हैं। उन्हें ये अवॉर्ड डायरेक्टर गुलजार की फिल्म 'लेकिन' और आशुतोष गोवारिकर द्वारा निर्देशित और आमिर खान स्टारर लेजेंडरी फिल्म लगान के लिए मिले थे।

ad

loading...