news-details

72 गणतंत्र दिवस विरोध प्रदर्शन कर रहे किसान संगठन आज निकालेंगे ट्रैक्टर मार्च

एक तरफ राजपथ से रिपब्लिक डे परेड निकलेगी तो दूसरी तरफ दिल्ली बॉर्डर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे किसान संगठन आज ट्रैक्टर मार्च निकालेंगे। गणतंत्र दिवस समारोह और किसानों की प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड के मद्देनजर राजपथ और राष्ट्रीय राजधानी की कई सीमाओं पर हजारों सशस्त्र सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया है। दिल्ली में पहले से बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था बंदोबस्त हैं। कोरोना की वजह से इस बार परेड विजय चौक से शुरू होकर नैशनल स्टेडियम तक ही जाएगी जबकि हर बार रिपब्लिक डे परेड राजपथ से शुरू होकर लाल किले तक जाती थी। रिपब्लिक डे परेड के जरिए दुनिया को भारत की ताकत, संस्कृति और अनेकता में एकता की झलक दिखाई जाती है। तीन नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों ने कहा कि उनकी परेड मध्य दिल्ली में प्रवेश नहीं करेगी और यह गणतंत्र दिवस पर होने वाली आधिकारिक परेड के समापन के बाद ही शुरू होगी। संगठनों ने दावा किया है कि उनकी परेड में करीब दो लाख ट्रैक्टरों के हिस्सा लेने की उम्मीद है और यह सिंघू बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर और गाज़ीपुर (यूपी गेट) से चलेगी।

एक अधिकारी ने बताया कि गणतंत्र दिवस समारोह के मद्देनजर निगरानी रखने के लिए करीब छह हजार सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया है। संदिग्ध लोगों की पहचान करने के लिए दिल्ली पुलिस की चेहरे से पहचान करने वाली प्रणाली भी उचित स्थानों पर स्थापित की गई है। उन्होंने बताया कि कोरोना के मद्देनजर राजपथ पर लोगों की जांच करने वाले कर्मी पीपीई किट पहने होंगे और मास्क व फेस शील्ड (चेहरे के आगे शीशा) लगाए हुए होंगे। गणतंत्र दिवस परेड के मार्ग पर नजर रखने के लिए ऊंची इमारतों पर शार्प शूटरों और स्नाइपरों को तैनात किया गया है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गणतंत्र दिवस समारोह और प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड के दौरान कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए शहर में और नगर के आसपास 5 स्तरीय सुरक्षा कवर तैनात किया गया है।



ad

loading...