news-details

महासमुंद में ट्रेन से कटकर छह लोगों की मौत को लेकर भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति ने जारी किया प्रेस विज्ञप्ति, शराबबंदी को लेकर के किए गए वादे को दिलाया याद

महासमुंद में ट्रेन से कटकर छह लोगों की मौत को लेकर भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सतप्रीत सलूजा विक्की ने आज एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए प्रदेश सरकार को जमकर कोसा और शराबबंदी को लेकर के किए गए वादे को याद दिलाया ।गुरुवार को महासमुंद के इमली भांठा में शंकर नगर रेलवे फाटक के पास ट्रेन से कटकर 6 लोगों की मौत हो गई जिसमें एक महिला एवं उसकी 5 बेटियां शामिल हैं। घटना को लेकर के जो खबरें सामने आई हैं उसके मुताबिक मृत महिला के पति आदतन शराबी था जो शराब पीकर घर आने और लड़ाई झगड़ा से परेशान होकर एक महिला द्वारा अपनी पांच नाबालिग बेटियों के साथ ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या करने की बात सामने आई है।

इस मामले को लेकर के भाजयुमो नेता विक्की सलूजा ने आक्रोश जताते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में गंगाजल हाथ में लेकर पूर्ण शराबबंदी का वादा करके सत्ता में आई कांग्रेस की सरकार में शराब के चलते महिला द्वारा अपने नाबालिग बेटियों के साथ आत्महत्या जैसे हृदय विदारक कदम उठाया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। इस घटना से सरकार को सबक लेना चाहिए। प्रदेश में रोजाना शराब के चलते लूट, हत्या, चोरी, डकैती जैसी घटनाओं के अलावा माता बहनों को घरेलू हिंसा का शिकार होना पड़ रहा है।

महासमुंद की घटना की कड़ी निंदा भाजयुमो नेता विक्की सलूजा द्वारा की गई है।

सलुजा ने आगे कहा की छत्तीसगढ़ सरकार की नाकामी और स्वेच्छापूर्ण रवैया से आज एक हंसता खेलता परिवार उजड़ गया। माताएं बहनें इस कदर सरकार की शराबबंदी की वादाखिलाफी से परेशान हैं कि उन्हें आत्महत्या जैसे कठोर कदम भी उठाना पड़ रहा है। कांग्रेस सरकार को अब तो कम से कम जागना चाहिए और छत्तीसगढ़ में पूर्ण शराबबंदी की घोषणा करनी चाहिए। उन्होनें तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेसियों को अब कुर्सी की लड़ाई छोड़कर घोषणा पत्र में किए गए वादे को अब पूरा करना चाहिए, कांग्रेस सरकार को अब ढाई साल हो गया है और ऐसे में सरकार को अपनी जवाबदेही से भाजयुमो भागने नहीं देगी।