news-details

कांकेर : स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने पाईपलाईनों की मरम्मत कराने के निर्देश

बरसात के मौसम में होने वाले जलजनित रोगों से बचाव के लिए नागरिकों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने हेतु शहरी क्षेत्रों के पेयजल की टूटी-फूटी लाईनों की मरम्मत करने तथा ग्रामीण क्षेत्रों में हैण्डपंप व ट्यूबवेल में क्लोरीन डालने के लिए कलेक्टर श्री चन्दन कुमार ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, कार्यपालन अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, नगरीय निकायों के मुख्य नगरपालिका अधिकारी और सभी जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देशित किया है।

अधिकारियों को निर्देशित करते हुए उन्होंने कहा है कि बरसात के मौसम एवं उसके तत्काल बाद जल जनित रोग जैसे-उल्टी, दस्त, आंत्रशोथ, टाईफाइड, पीलिया इत्यादि बीमारियों की बढ़ने की संभावना रहती है, जिनसे बचाव के लिए लोगों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने हेतु शहरी क्षेत्रों में पेयजल पाईपों का निरीक्षण कर टूटे-फूटे पाईपों की मरम्मत किया जावे। पेयजल पाईप नालियों के भीतर न रहे, यह भी सुनिश्चित किया जाये। पेयजल की लगातार कोलीफार्म बैक्टीरिया के लिए टेस्टिंग की आवश्यकता पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि वाटर ट्रीटमेंट एवं स्टोरेज टंकियों के पानी का सेम्पल लेकर जांच भी किया जावे। ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल के ट्यूबवेल एवं हैण्डपंप में क्लोरीन डालने के निर्देश भी उनके द्वारा अधिकारियों को दिये गये हैं, साथ ही लगातार मॉनिटरिंग करने के लिए भी कहा गया है।