news-details

रोहित आईसीसी वर्ष के सर्वश्रेष्ठ वनडे क्रिकेटर, कोहली को ‘स्पिरिट आफ क्रिकेट’ पुरस्कार

भारत के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा को बुधवार को आईसीसी का वर्ष 2019 का सर्वश्रेष्ठ वनडे क्रिकेटर चुना गया जबकि इंग्लैंड के हरफनमौला बेन स्टोक्स ने वर्ष के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार जीता ।

भारतीय कप्तान विराट कोहली को वनडे और टेस्ट दोनों टीमों का कप्तान चुना गया । इसके अलावा विश्व कप के मैच के दौरान दर्शकों को स्टीव स्मिथ की हूटिंग करने से रोकने के लिये उन्हें ‘स्पिरिट आफ क्रिकेट ’ पुरस्कार के लिये भी चुना गया । स्मिथ गेंद से छेड़खानी मामले में एक साल का प्रतिबंध झेलने के बाद वापसी कर रहे थे ।

इंग्लैंड के विश्व कप विजेता हरफनमौला स्टोक्स को वर्ष के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर के ‘सर गारफील्ड सोबर्स ट्राफी’ पुरस्कार के लिये चुना गया । आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कमिंस को वर्ष का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट क्रिकेटर चुना गया ।

भारतीय तेज गेंदबाज दीपक चाहर ने टी20 में सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शन का पुरस्कार जीता । वहीं आस्ट्रेलिया के मार्नस लाबुशेन को वर्ष का सर्वश्रेष्ठ उदीयमान क्रिकेटर और स्काटलैंड के काइल कोत्जर को वर्ष का सर्वश्रेष्ठ एसोसिएट क्रिकेटर चुना गया ।

रोहित ने विश्व कप के नौ मैचों में पांच शतक और एक अर्धशतक समेत 81 की औसत से 648 रन बनाये । वह विश्व कप के इतिहास में एक ही सत्र में पांच शतक बनाने वाले पहले बल्लेबाज बने ।

रोहित ने इस साल वनडे क्रिकेट में 28 मैचों में 1409 रन बनाये जिसमें सात शतक शामिल हैं ।

उन्होंने कहा ,‘‘ इस तरह से सम्मान मिलना अच्छा लगता है । हम 2019 में अपने प्रदर्शन से बहुत खुश हैं । हम बेहतर कर सकते थे लेकिन सकारात्मक पहलुओं को लेकर अगले साल उम्दा खेलेंगे ।’’

भारतीय कप्तान विराट कोहली ‘स्पिरिट आफ क्रिकेट’ पुरस्कार मिलने से हैरान हैं । उन्होंने बताया कि स्मिथ का इस तरह बचाव उन्होंने क्यो किया था । उन्होंने कहा ,‘‘ खिलाड़ियों में आपस में एक दूसरे के लिये इस तरह का तालमेल होता है ।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ यह उसकी हालत को समझते हुए मैने किया था । मुझे नहीं लगता कि इस तरह के हालात से निकलकर आये किसी व्यक्ति की परिस्थितियों का फायदा उठाना चाहिये ।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ आप छींटाकशी कर सकते हैं और विरोधी टीम को हराने के लिये कई तरह की बातें कह सकते हैं लेकिन किसी की हूटिंग करना सही नहीं है । मैं इसका पक्षधर नहीं हूं ।’’

चाहर ने कहा कि बांग्लादेश के खिलाफ नागपुर में सात रन देकर छह विकेट लेने के अपने प्रदर्शन को वह ताउम्र याद रखेंगे ।

उन्होंने कहा ,‘‘ सिर्फ सात रन देकर छह विकेट लेना सपने जैसा प्रदर्शन है । यह हमेशा मेरे दिल के करीब रहेगा ।’’

कमिंस ने इस दौरान 12 टेस्ट में 59 विकेट लिये और टेस्ट रैंकिंग में शीर्ष पर रहे ।

उन्होंने कहा ,‘‘ पिछले साल का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना जाना बड़ा सम्मान है । यह अप्रत्याशित है । मैं इसके लिये अपनी टीम, साथी खिलाड़ियों और आस्ट्रेलियाई क्रिकेट से जुड़े सभी लोगों का शुक्रगुजार हूं ।’’

स्टोक्स ने पिछले 12 महीने में बेहतरीन प्रदर्शन करके विश्व कप फाइनल में इंग्लैंड की नाटकीय जीत में सूत्रधार की भूमिका निभाई । उन्होंने एशेज में शतक भी जमाया ।

स्टोक्स ने कहा ,‘‘ इस पुरस्कार का श्रेय मेरे साथी खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ को भी जाता है जो हर कदम पर मेरे साथ थे । उनके बिना हम यह कभी नहीं कर पाते ।’’

लाबुशेन ने पिछले साल 11 टेस्ट में 1104 रन बनाये और वर्ष के आखिर में रैंकिंग में छलांग लगाकर 110वें से चौथे स्थान पर पहुंच गए ।

इंग्लैंड के अंपायर रिचर्ड इलिंगवर्थ को वर्ष के सर्वश्रेष्ठ अंपायर का पुरस्कार मिला ।

आईसीसी पुरूष क्रिकेट पुरस्कार :

सर गारफील्ड सोबर्स वर्ष का सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर : बेन स्टोक्स (इंग्लैंड)

वर्ष का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट क्रिकेटर : पैट कमिंस (आस्ट्रेलिया)

वर्ष का सर्वश्रेष्ठ वनडे क्रिकेटर : रोहित शर्मा (भारत)

वर्ष का सर्वश्रेष्ठ टी20 प्रदर्शन : दीपक चाहर (भारत , बांग्लादेश के खिलाफ सात रन देकर छह विकेट (

वर्ष का सर्वश्रेष्ठ उदीयमान क्रिकेटर : मार्नस लाबुशेन (आस्ट्रेलिया)

वर्ष का सर्वश्रेष्ठ एसोसिएट क्रिकेटर : काइल कोत्जर (स्काटलैंड)

स्पिरिट आफ क्रिकेट पुरस्कार : विराट कोहली

वर्ष का सर्वश्रेष्ठ अंपायर : रिचर्ड इलिंगवर्थ । (भाषा)