news-details

क्वॉरेंटाइन सेंटर का हाल बेहाल, पंचायत नहीं परिजन कर रहे भोजन की व्यवस्था.

महासमुंद जिले के पिथौरा ब्लाक अंतर्गत ग्राम खम्हन और बसना ब्लाक अंतर्गत ग्राम बेल्डीहपठार के क्वॉरेंटाइन सेंटर रह रहे मजदूरों की भोजन व्यवस्था अब अपने घर से करनी पड़ रही है, जिले में ऐसे कई ग्राम पंचायत है जहाँ के क्वॉरेंटाइन सेंटर की शिकायतें लगातार प्राप्त हो रही है. किसी क्वॉरेंटाइन सेंटर में घर परिवार वाले उन्हें भोजन पहुँचाने आ रहे है तो कहीं मजदूरों को कर्ज लेकर अपनी भोजन का व्यवस्था करना पड़ रहा है.

गौरतलब है कि ग्राम पंचायत के क्वॉरेंटाइन सेंटर रह रहे मजदूरों के लिए दिशा निर्देश जारी कर दिए गए है, लेकिन कई पंचायत ऐसे है जो लापरवाही बरत रहें है, जिसके कारण क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रहे मजदूरों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.  

बसना  ब्लाक के ग्राम बेल्डीहपठार के क्वॉरेंटाइन सेंटर रह रहे एक व्यक्ति ने बताया कि वे ईटा भट्टा में काम करने के लिए ओडिशा कटक गए थे, और वापस आने पर उन्हें गाँव के स्कूल में क्वॉरेंटाइन किया गया है.

पंचायत द्वारा केवल राशन कार्ड के माध्यम से मिलने वाला चावल दिया गया, और लकड़ी की व्यवस्था कर दी गई, और अब बाकी के सामान के लिए उन्हें खुद ही व्यवस्था करने को कहा जा रहा है, इस बीच एक बार मजदूरों ने लाइट के व्यवस्था की मांग की तो पंच ने उन्हें खुद के घर से जाकर व्यवस्था कर लो कहा जिस पर क्वॉरेंटाइन से एक व्यक्ति बाहर जाकर अपने यहाँ लाइट की व्यवस्था किया.

इतना ही नहीं जहाँ क्वॉरेंटाइन सेंटर में इन व्यक्तियों को रखा जा रहा है, वहां सफाई की भी व्यवस्था नहीं है, जो शौचालय है वह टूटे व गंदगियों से भरे पड़े है, सुबह इन क्वॉरेंटाइन सेंटर का ताला खोल दिया जाता है जिसके बाद ग्रामीण शौच के लिए बाहर जाते है.

वहीं अव्यवस्था के चलते कुछ कारणों से 112 को भी फ़ोन कर दिया गया था, जिसके बाद पुलिस को वहां पहुँचकर समझाइस देना पड़ा.

जबकि पिथौरा ब्लाक के ग्राम खम्हन के क्वॉरेंटाइन सेंटर का है जहाँ रह रहे मजदूरों ने बताया कि पंचायत द्वारा उन्हें केवल 30 किलो चावल, और 300 रुपये देकर अपने काम से इतिश्री कर लिया गया. अब उनका चावल समाप्त हो चूका है, और पैसे भी जिसके चलते उन्हें कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, जिनके घर वाले अब क्वॉरेंटाइन सेंटर पहुंचकर उन्हें राशन मुहैया करवा रहे हैं.


ad

ad

ad
loading...