news-details

बच्चों और बुजुर्गों को कोविड से बचाने के लिए रखे खयाल-सीएमएचओ

स्वयं के साथ-साथ अपने परिजनों को भी कोविड से बचाए रखने का करें अभ्यास

घर के बाहर मास्क और हैंड रब सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए रखना भी जरूरी, शीतल पेय, अधिक तेल-मसाला न खाएं

सर्दी, खांसी, बुखार के लक्षणों को हल्के में न लें, तुरंत कराएं कोविड की जांच

यदि आपके घर-परिवार में छोटे बच्चे या बुजुर्ग हैं तो आपको कोविड-19 के बढ़ते खतरे से और भी अधिक सतर्क रहने की जरूरत है। यह कहना है प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. आर.के. परदल का उन्होंने विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी डब्लू.एच.ओ द्वारा जारी सुरक्षा सावधानी निर्देशिका के महत्वपूर्ण बिन्दुओं को पुनः बतलाते हुए संक्रमण रोकथाम और बचाव की दिशा में एडवायजरी जारी की है। उनके अनुसार एक स्वस्थ वयस्क की तुलना में बुजुर्ग और पहले से बीमार लोगों में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है और यही स्थिति शारीरिक एवं मानसिक विकासक्रम में तेजी से बढ़ने वालों बच्चों में भी पाई जाती है। इसलिए इनके कोविड-19 की महामारी की चपेट में आने की सम्भावनाएं अधिक बढ़ जाती है।

हाल ही में फीवर क्लीनिक में अपने परिजनों के साथ कोविड-19 की जांच कराने पहुंची एक पांच वर्षीय बालिका का उदाहरण देते हुए डाॅ. परदल कहते हैं कि वह स्टेशन रोड निवासी एक व्यवसायी की पुत्री है और व्यवसाय के चलते उसके पिता का रोजाना बहुत लोगों से मिलना-जुलना होता रहा। विगत तीन दिवस पूर्व व्यवसायी पिता कोविड-19 से संक्रमित हो गए, उन्हें होम आइसोलेट किया गया। जिसके बाद अन्य परिजनों ने भी अपनी जांच कराई और उनकी पांच वर्षीया पुत्री कोविड-19 की धनात्मक (एसिम्टोमेटिक मलतब लक्षण रहित) पाई गई। वर्तमान में दोनों वे होम आइसोलेशन में रह कर स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं।उन्होने कहा कि परिवार के ऐसे सदस्य जो बाहरी लोगो के निरंतर संपर्क में आते हैं उन्हें स्वयं के साथ-साथ अपने परिजनों को भी संक्रमण से बचाए रखने की ओर विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए। यदि आप सुरक्षा सावधानी पर अमल कर रहे हैं और आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी है तो आप संक्रमण से काफी हद तक सुरक्षित रह सकते हैं। लेकिन, यह जरूरी नहीं कि आपके परिवार का कोई बच्चा, बुजुर्ग या पहले से पुराने गंभीर रोगों से पीड़ित सदस्य भी रोगों से लड़ने में आपकी तरह ही मजबूत हो। जरा सी लापरवाही से वह भी संक्रमण की चपेट में आ सकता है। ऐसे में हमें चाहिए कि घर से बाहर हमेशा मास्क पहने रहें और घर में व बाहर दोनों ही स्थानों में रहते हुए समय-समय पर हैंड रब सैनिटाइजर या साबुन से हाथ साफ करते रहें। यही नहीं आइसक्रीम, शीतल पेय पदार्थ, अत्यधिक तेल व मसाला युक्त भोजन न करें। बल्कि इनके बजाय हरी सब्जी, फल, सलाद, दूध, और गर्म पानी एवं संतुलित आहार आदि का नियमित रूप से सेवन रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में काफी मददगार साबित होगा। इन सावधानियों को अपना कर हम और आप स्वयं के साथ अपने परिजनों को भी कोविड-19 की महामारी से संक्रमित होने से बचा सकते हैं।

ad

loading...