news-details

वॉट्सऐप के खिलाफ दुनियाभर में गुस्सा,,, दिग्गज उद्योगपतियों ने वॉट्सऐप किया अनइनस्टॉल,,,, वॉट्सऐप का डाउनलोड हुआ कम,,, यूजर्स की निजी जानकारी को लेकर चिंता जताई जा रही,, 50 करोड़ से ज्यादा लोग Telegram डाउनलोड कर चुके हैं

लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप के खिलाफ दुनियाभर में गुस्सा बढ़ता जा रहा है। इसकी वजह यह है कि वॉट्सऐप की नई पॉलिसी। इससे यूजर्स की निजी जानकारी को लेकर चिंता जताई जा रही है। भारत में भी कई कंपनियों और दिग्गज कॉरपोरेट हस्तियों ने वॉट्सऐप छोड़कर सिग्नल जैसे दूसरे मैसेजिंग ऐप का रूख करना शुरू कर दिया है। इनमें नए दौर की स्टार्टअप कंपनियां और पुराने कॉरपोरेट तथा उनके सीनियर लीडर शामिल हैं। ये लोग अब अपने वर्क चैट और इंटरनल डॉक्युमेंट्स को शेयर करने के लिए सिग्नल का इस्तेमाल कर रहे हैं।

वॉट्सऐप ने हाल में पेमेंट्स सेक्टर में एंट्री की थी जिससे पेटीएम और फोनपे को खतरा पैदा हो गया है। अब ये दोनों कंपनियां इस विवाद का फायदा उठा रही हैं। उन्होंने अपनी टीम्स को वॉट्सऐप छोडऩे को कहा है। नवीन जिंदल की अगुवाई वाली कंपनी जिंदल स्टील एंड पावर भी वॉट्सऐप को बाय-बाय कह रही है। महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने हाल में सिग्नल इनस्टॉल किया है। टाटा ग्रुप के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन पिछले कुछ समय से सिग्नल का इस्तेमाल कर रहे हैं। साथ ही ग्रुप के कई सीनियर अधिकारी भी इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर रहे हैं।

पेटीएम के सीईओ विजय शेखर शर्मा ने बताया कि उन्होंने अपनी टीम के सभी लोगों को वर्क कम्युनिकेशन के लिए वॉट्सऐप का इस्तेमाल नहीं करने को कहा है। फोनपे के को-फाउंडर समीर निगम के मुताबिक उनकी टीम के आधे सदस्य सिग्नल पर जा चुके हैं। दुनियाभर में वॉट्सऐप डाउनलोड की संख्या घटी है। 23 दिसंबर से 31 दिसंबर के बीच इसे 34 लाख बार डाउनलोड किया गया जबकि 1 से 9 जनवरी के बीच यह 30 लाख बार डाउनलोड हुआ जो सितंबर 2020 के बाद सबसे कम डाउनलोड है। 

इस बीच दुनिया से सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ने फेसबुक और इसके फाउंडर मार्क जकरबर्ग की मुश्किलें बढ़ा दी है। मस्क ने लोगों से वॉट्सऐप और फेसबुक छोड़कर मैसेजिंग ऐप सिग्नल अपनाने की अपील की है। इसके बाद सिग्नल की लोकप्रियता अचानक बढ़ गई है। टेस्ला के फाउंडर ने लोगों से वॉट्सऐप और फेसबुक के बजाय ज्यादा एनक्रिप्टेड सुविधा वाले ऐप अपनाने को कहा है। जब उनके फॉलोअर्स ने सुरक्षित विकल्प के बारे में पूछा तो मस्क ने खासतौर पर सिग्नल का जिक्र किया।

कुछ प्राइवेसी एक्टिविस्ट्स ने वॉट्सऐप की पॉलिसी पर सवाल उठाए हैं और यूजर्स को सिग्नल और टेलीग्राम जैसे ऐप का रूख करने को कहा है। मस्क का साथ मिलने से सिग्नल की लोकप्रियता और बढ़ गई है। मस्क ट्विटर पर सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाली हस्तियों में शामिल हैं। इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली मस्क की कंपनी टेस्ला फेसबुक को पछाड़कर वॉल स्ट्रीट की पांचवीं सबसे मूल्यवान कंपनी बन चुकी है। उसका मार्केट कैप 800 अरब डॉलर के पार पहुंच चुका है।


कंपनी की ओर से जारी बयान के अनुसार दुनिया में 50 करोड़ से ज्यादा लोग Telegram डाउनलोड कर चुके हैं. पिछले 72 घंटे में 2.50 करोड़ लोगों ने ये ऐप डाउनलोड किया है.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक इस वक्त पूरी दुनिया में WhatsApp यूजर्स दूसरे मैसेजिंग ऐप्स की ओर रुख कर रहे हैं. अपनी निजी जानकारियों को लेकर यूजर्स काफी सतर्क हो गए हैं. 5 जनवरी को नई प्राइवेसी पॉलिसी आने के बाद यूजर्स अब Signal या Telegram में शिफ्ट होने लगे हैं.

बताते चलें कि WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी (Privacy Policy) का विरोध जारी है. लोगों की निजी जानकारी जबर्दस्ती लेने का नया फैसला WhatsApp को भारी पड़ने लगा है. इस बीच खबर है कि सिर्फ आम यूजर्स ही नहीं बल्कि कई बड़ी कंपनियों के CEO और Business Tycoons भी इस मैसेजिंग प्लेटफॉर्म (Messaging Platform) को छोड़कर दूसरी ऐप चुनने लगे हैं.







ad

ad

loading...