news-details

शुल्क माफ, अब सीएससी सेंटर में मुफ्त बनेगा आयुष्मान कार्ड

गरीब परिवारों को नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से शुरू की गई प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के तहत लाभार्थियों के कार्ड बनाने के लिए विशेष अभियान शुरू किया गया। आयुष्मान पखवाड़ा के तहत कस्टमर सर्विस सेंटर (सीएससी) में फ्री में बनाए जाएंगे। 15 मार्च तक चलने वाले इस अभियान में लोगों को कार्ड बनवाने के लिए जागरूक किया जाएगा।
आयुष्मान भारत योजना के तहत चयनित परिवारों को पांच लाख रुपये तक के इलाज की फ्री सुविधा दी जाती है।

उल्लेखनीय है कि राज्य में आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना एवं डा. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजनाअंतर्गत राशन कार्डधारी हितग्राहियों एवं केन्द्र द्वारा सूचीबद्ध एसईसीसी हितग्राहियों को पात्रतानुसार वर्ष में 50 हजार एवं 5 लाख रुपये तक की नि:शुल्क चिकित्सा के लिए सहायता प्रदान की जा रही है। निश्शुल्क प्लास्टिक (पीवीसी) आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए अभियान के संचालन के लिए कलेक्टर द्वारा जिलानोडल अधिकारी एवं आवश्यकतानुसार जनपद एवं ग्राम पंचायत स्तर पर भी नोडल अधिकारी की नियुक्ति की जायेगी।आयुष्मान कार्ड जारी करने की प्रक्रिया आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए इच्छुक व्यक्तियों को अपने निकटतम च्वाइस सेंटर में अपने साथ व्यक्तिगत पहचान पत्र के लिए आधार कार्ड एवं परिवार पहचान 

पत्र के तौर पर राशन कार्ड लेकर जाना होगा। च्वाइस सेंटर हितग्राही का सत्यापन योजना के बीआइएस प्रक्रिया के माध्यम से प्रारंभ कर प्रक्रिया पूर्ण करेगा तथा आधार सत्यापन उपरांत बीआइएस अप्रूवल के लिए भेजेगा।बीआइएस प्रक्रिया के दौरान हितग्राही द्वारा दिये गये मोबाइल नंबर पर आयुष्मान कार्ड बनाये जाने संबंधी मैसेज प्राप्त होगा। च्वाइस सेंटर आधार सत्यापित आयुष्मान कार्ड जारी करेगा। च्वाइस सेंटर हितग्राही को आन द स्पॉट पेपर आयुष्मान कार्ड जारी करेगा, जिसका उपयोग हितग्राही योजनांतर्गत निश्शुल्क इलाज प्राप्त करने के लिए करेगा। ऐसे हितग्राही जिनको आपातकालीन चिकित्सा की आवश्यकता है वे योजना अंतर्गत पंजीकृत अस्पताल में आयुष्मान मित्र के माध्यम से नि:शुल्क पेपर आयुष्मान कार्ड प्राप्त कर सकता है। च्वाइस सेंटर को हितग्राही किसी भी तरह का भुगतान नहीं करेगा, यह सेवा पात्र हितग्राहियों के लिए पूर्णतः नि:शुल्क है।



ad

loading...