news-details

संकट काल में नवीन जिंदल के रूप में देश को मिला एक भरोसेमंद ऑक्सीजन मैन....

जब रेलवे बोर्ड के चेयरमैन सुनित शर्मा ने बताया कि स्पेशल ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन रायगढ़ के जिंदल स्टील वर्क्स से दिल्ली कैंट रेलवे स्टेशन रवाना हुई है तो हम सब रायगढ़ वासी गौरव से भर उठे। जिंदल प्लांट को रेलवे ने वैगन्स पहले ही उपलब्ध करा दिए थे। अब खबर आई है कि इस ट्रेन से ऑक्सीजन के चार टैंकर दिल्ली कैंट स्टेशन पर पहुंच चुके हैं। एक विशेष ट्रेन में चार टैंकर होते है।

नवीन जिंदल ने अल्प समय में ही न केवल उद्योग के क्षेत्र में ख्याति अर्जित की है बल्कि वे समाज सेवा के क्षेत्र में भी जाना माना नाम हैं। उनकी छवि एक प्रखर राष्ट्र भक्त की है। एक लंबे लोमहर्षक संघर्ष के बाद उन्होंने आम नागरिकों को तिरंगा फहराने का अधिकार दिलाने में कामयाबी प्राप्त की थी। जिंदल के विभिन्न इकाइयों में ऑक्सीजन उत्पादन के लिए एक आवश्यक घटक होती है। किंतु इस राष्ट्रीय आपदा की स्थिति में नवीन जिंदल ने अपने रायगढ़, पतरातू, अंगुल आदि अनेक प्लांटों में उत्पादन रोककर केवल इंडस्ट्रियल ग्रेड ऑक्सीजन को मेडिकल ऑक्सीजन में परिवर्तित करने की मुहिम चलाई है। इस कार्य की वे स्वयं दिन रात निगरानी कर रहे हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से भरोसा दिया है कि जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड के रायगढ़ प्लांट से ऑक्सीजन की आपूर्ति एमपी को की जाएगी।

जैसे ही नवीन जिंदल को इस भयावह ऑक्सीजन संकट के बारे में पता चला वैसे उन्होंने ट्वीट करके बताया कि उन्होंने एमपी, दिल्ली और राजस्थान के सीएम से बात की है और उन्हें ऑक्सीजन की सप्लाई का भरोसा दिया है। जेएसपीएल कॉरपोरेट के आंगुल प्लांट में 500 टन से ज्यादा लिक्विड ऑक्सीजन तैयार है। कंपनी जरूरत पड़ने पर किसी भी सरकार को रोज 100 टन ऑक्सीजन उपलब्ध करा सकती है। दिल्ली/एनसीआर, तेलंगाना और मध्य प्रदेश में अस्पतालों में लिक्विड ऑक्सीजन के टैंकर भेजे जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि देश की जनता मेरे लिए सर्वोपरि है। उद्योग मेरी दूसरी प्राथमिकता है। नवीन जिंदल के इस राष्ट्रप्रेम को देखकर सभी देशवासियों और विशेषकर रायगढ़ वासियों का मस्तक गर्व से ऊंचा हो गया है। संकट काल में नवीन जिंदल के रूप में देश को एक भरोसेमंद ऑक्सीजन मैन मिल गया है।



ad

loading...