news-details

महासमुंद : प्रभारी मंत्री ने वीसी के जरिए अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की बैठक ली

मंत्री कवासी लखमा ने पिथौरा अस्पताल में आॅक्सीजन प्लांट और  ऑक्सीजन बेड की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया

छत्तीसगढ़ के वाणिज्यिक कर (आबकारी), वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री कवासी लखमा ने आज बुधवार को वैश्विक महामारी कोरोना की रोकथाम एवं नियंत्रण व कोरोना से बचाव एवं सुरक्षा उपायों की प्रगति की विस्तार से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा की। प्रभारी मंत्री श्री लखमा ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पिथौरा में 125 जेम्बो आॅक्सीजन क्षमता वाले प्लांट और 30 आॅक्सीजन बेड की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए।

मंत्री  कवासी लखमा ने कोविड अस्पताल, कोविड केयर सेंटर में उपलब्ध बेड की संख्या, भर्ती मरीज, ऑक्सीजन युक्त बेड, कोविड केयर सेंटर में पदस्थ स्टॉफ की जानकारी ली। उन्होंने भर्ती मरीजों के बेहतर उपचार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों में घर-घर सर्वे कार्य करने और संदिग्ध व्यक्तियों का कोविड टेस्ट कर जाँच रिपोर्ट अनुसार समुचित इलाज करने एवं मेडिकल किट वितरण आदि के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सरकारी अस्पताल सहित जिन निजी अस्पतालों को कोविड इलाज की अनुमति दी ह। उन सभी अस्पतालों में आक्सीजन सिलेंडर जरूरी उपचार के सभी उपकरण ठीक ढंग से काम कर रहे हो इसकी भी निगरानी करते रहे। मंत्री श्री लखमा ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर का जिक्र करते हुए कहा कि आ रही खबरों के मुताबिक यह लहर बच्चों को भी प्रभावित कर सकती है। इसके लिए समय रहते सभी जरूरी तैयारी कर ली जाए।

उन्होंने कहा कि जिले के सरकारी एवं निजी अस्पातालों में भी छोटे बच्चों के लिए अलग से वार्ड, बेड, आॅक्सीजन के इंतजाम करने को कहा। श्री लखमा ने महासमुन्द जिला प्रशासन के साथ-साथ कोरोना की लड़ाई मंे जनता द्वारा दी जा रही सहयोग एवं कार्यों की तारीफ की और उन्होंने आगे भी ऐसे ही कोरोना की इस महामारी से निपटने के लिए सहयोग करने की अपेक्षा की। मंत्री ने कहा की निर्धारित लक्ष्य अनुसार टेस्टिंग हो इस पर भी नजर बनाए रखे। फ्रंट लाइन वर्कर, सभी पात्र व्यक्ति टीकाकरण हो और जो किसी गलत अफवाह के कारण टीका नहीं लगवा रहे उन्हें  प्रेरित करें। इसमें अधिकारियों के साथ जनप्रतिनिधियों महत्वपूर्ण निभा सकते है और वे इस काम को अच्छी तरह निभा भी रहे है। खासकर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को टीकाकरण के लिए जागरुक करने की जरूरत है।

कलेक्टर डोमन सिंह ने जिले में कोरोना नियंत्रण एवं व्यवस्थाओं के साथ ही किए जा रहे टीकाकरण और कोरोना टेस्टिंग आदि की जानकारी देते हुए बताया कि जिले में अब तक 2,53,793 लोगों का कोविड टेस्ट किया गया है। जिसमें 26,890 पाॅजिटीव केस आए। अब तक 21,958 कोरोना पाॅजिटीव बेहतर उपचार के बाद सुरक्षित घर पहुंच गए है। वर्तमान में 4655 एक्टिव केस है। जिनका समुचित उपचार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले के शासकीय चिकित्सालयों में 136 आॅक्सीजन बेड की व्यवस्था उपलब्ध कराई गयी है।

यहां मरीजों का चिकित्सकों द्वारा बेहतर उपचार किया जा रहा है। अन्य राज्यों से आए 2600 लोगों को क्वारेंटाईन सेंटर में ठहराया गया था। वर्तमान में 1152 लोग क्वारेंटाईन सेंटर मेें ठहरे हुए है। वीडियों कांफ्रेन्सिंग में संसदीय सचिव एवं महासमुन्द विधायक विनोद चंद्राकर, जिला पंचायत अध्यक्ष ऊषा पटेल, भारत स्काऊट गाईड के जिला अध्यक्ष दाऊलाल चन्द्राकर, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आकाश छिकारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े थे। जिले के सभी विधायकगण द्वारिकाधीश यादव, किस्मतलाल नंद, देवेन्द्र बहादुर सिंह सामाजिक कार्यकर्ता, जनप्रतिनिधिगण, व्यवसायी, उद्योगपति एवं अन्य गणमान्य नागरिक लिंक के जरिए सुविधाजनक स्थानों से शामिल हुए।