news-details

महासमुंद : जर्जर सड़क से स्कूली बच्चे परेशान, ग्रामीणों ने दी उग्र आंदोलन की चेतावनी

महासमुंद। जिले के कंचनपुर में पढ़ने वाले स्कूली बच्चे और उनके पालक जर्जर सड़क की मरमत की मांग को लेकर कलेक्ट्रट पहुचे थे। स्कूली बच्चे और ग्रामीणों ने अपनी मांग का ज्ञापन कलेक्टर को सौपा है वही मांग पूरी नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

दरअसल महासमुंद जिले के पिथौरा जनपद क्षेत्र का गांव कंचनपुर जहां कंचनपुर से सांकरा, पंडरीपानी व पौसरा को जोड़ने वाली सड़क पूरी तरह जर्जर हालत में है यहाँ के ग्रामीणों व कंचनपुर स्कूल में पढ़ने वाले स्कूली बच्चों द्वारा वर्षों से जर्जर हुए सड़क की सुधार की मांग की जा रही है, लेकिन अबतक उनकी मांगों पर शासन प्रशासन का ध्यान नहीं है। यहाँ के सड़क जर्जर होने के कारण बरसात के दिनों में स्कूली बच्चो को स्कूल जाने में परेशानी होती है पूरी तरह सड़क कीचड़ से सराबोर रहता है जिससे बच्चे गिरते हैं, ड्रेस खराब हो जाती है, स्कूल जाने में देरी हो जाती है, साथ ही पढाई भी प्रभावित होती है। जिससे त्रस्त होकर बच्चे पढ़ाई छोड़ने मजबूर हो रहे हैं।

ग्रामीणों को भी गांव से शहर जाने के लिए इन्ही समस्याओ से जूझना पड़ता है। सड़क बुरी तरह से जर्जर स्थिति में हैं जिससे आवगमन में भारी समस्या का सामना करना पड़ता है, लगातार दुर्घटना होने की संभावना भी बनी रहती है, लेकिन गौर करने वाली बात यह है कि ग्रामीण कई सालो से सड़क की मांग करते है, लेकिन ग्रामीण और स्कूली बच्चो की इस बड़ी समस्या पर शासन प्रशासन को कोई लेना देना ही नही है। ऐसे में गाँव मे विकास के दावे जमीनी स्तर पर पूरी तरह खोखले नजर आ रहे है फिलहाल ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि 10 दिवस के भीतर मांग पूरी न होने पर उग्र आंदोलन व नेशनल हाइवे पर चक्का जाम भी किया जाएगा।




क्लासिफाइड विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 9131581090

क्लासिफाइड