news-details

अर्थव्यवस्था में सुधार के सरकार के कदमों का दिखने लगा है असर : वित्त मंत्री

प्याज के दाम पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि मंत्रियों का समूह इस मुद्दे पर और आयात संबंधित मुद्दों पर समीक्षा कर रहा है। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार जब कभी भी जरूरत होगी आर्थिक मुद्दों और उद्दोग से जुड़े मुद्दों पर हस्तक्षेप करेगी। वित्त मंत्री आज दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहीं थी।

दिल्ली में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, मुख्य आर्थिक सलाहकार के वी सुब्रमण्यन और वित्त मंत्रालय के दूसरे वरिष्ठ अधिकारियों ने सरकार की ओर से उठाये गए आर्थिक कदमें पर एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया, इस मौके पर वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार जब कभी भी जरूरत होगी आर्थिक मुद्दों और उद्दोग से जुड़े मुद्दों पर हस्तक्षेप करेगी।

प्याज के दाम पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि मंत्रियों का समूह इस मुद्दे पर और आयात संबंधित मुद्दों पर समीक्षा कर रहा है।

मुख्य आर्थिक सलाहकार ने कहा कि सरकार के आर्थिक सुधार के कदम प्रभाव दिखा रहे हैं, रोजगार के सवाल पर उन्होंने कहा कि 2011-12 से 2017-18 में देश में रोजगार की प्रकृति में काफी अंतर आया है, उन्होंने कहा कि देश में अनुबंध के आधार पर काम करने वाले लोगों की संख्या में 5 प्रतिशत की कमी आई है जबकि रेगुलर वेतनधारकों की संख्या 5 फीसदी बढ़ी है।

राजस्व सचिव अजय भूषण पांडे ने कहा कि 100 करोड़ से ज्यादा के टर्नओवर वाले बिजनेस के लिए बीटूबी ट्रांजेक्शन के लिए ई-इनवॉयस जरूरी होगा।

कुल मिलाकर सरकार ने पिछले कुछ महीनों में आर्थिक सुधार के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं, देश में रिकॉर्ड एफडीआई आने को इसके प्रभाव के रूप में देखा जा सकता है।

ad

loading...