news-details

सीजी सन्देश डॉट कॉम : खबर का असर : जीवित को मृत बताने वाले पंचायत सचिव हुए निलंबित.

जनपद पंचायत पिथौरा अंतर्गत ग्राम पंचायत तिलकपुर  के ग्राम पंचायत सचिव जयदेव नायक को अपने पदीय कर्त्तव्य के प्रति घोर लापरवाही बरतने एवं निरंतर उपेक्षा किये जाने के फलस्परूप महासमुंद जिला पंचायत सी.ई.ओ डॉ. रवि मित्तल ने छत्तीसगढ़ पंचायत सेवा (अनुशासन तथा अपील) नियम 1999 के नियम 4(1) (क) के तहत तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है.  

निलंबन अवधि में जयदेव नायक का मुख्यालय कार्यालय जनपद पंचायत बागबहरा निर्धारित किया गया है तथा निलंबन अवधि में इन्हें नियमानुसार जीवन-निर्वाह भत्ता की पात्रता की होगी.

उल्लेखनीय है कि सचिव द्वारा एक परिवार के महिला मुख्य को मृतक बता दिया गया. जिसके कारण लगातार 8 माह से उसे राशन नहीं मिल पा रहा था. इस सम्बन्ध में जब ग्राम पंचायत पथरला के सचिव से चर्चा किया तो उन्होंने बताया था कि वे गांव से बाहर थे इसलिए मृत लिख दिया गया, जबकि इस परिवार में कुल 2 लोग पति-पत्नी ही रहते है, जो कई बहुत ही गरीब परिवार है.

इस बड़ी लापरवाही का खामियाजा दोनों पति-पत्नियों को उठाना पड़ रहा था, दोनों राशन के एक-एक दाने के लिए मोहताज हो रहे थे. जिसके बाद 7 मई को सीजी सन्देश डॉट कॉम ने पीड़ित परिवार की समस्या बताई थी. इसके बाद जाँच किया गया पीड़ित परिवार को राशन मुहैया कराया गया. और 15 मई को जिला पंचायत सी.ई.ओ द्वारा एक आदेश जारी कर सचिव को निलंबित कर दिया गया.

आदेश में बताया गया कि जगदेव नायक,  ग्राम पंचायत सचिव,  ग्राम पंचायत पथरला, जनपद पंचायत पिथौरा द्वारा ग्राम पंचायत पथरला के आश्रित ग्राम तिलकपुर के राशनकार्ड धारी नुरा भोई पति भरत जीवित राशनकार्ड धारी को मृत बताकर राशनकार्ड नवीनीकरण नहीं कराने. एवं ग्राम पंचायत के मुख्यालय में निवास नहीं करने तथा अपने पदीय कर्तव्यों में घोर लापरवाही बरतने एवं निरतंर उपेक्षा किये जाने के फलस्वरूप छग. पंचायत सेवा (अनुशासन तथा अपील) नियम 1999 के नियम 4 (1) (क) के तहत तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है.

लापरवाही : बिना मृत्यु प्रमाण के महिला मुखिया को बता दिया मृतक, नहीं मिल रहा राशन.


ad

ad

ad
loading...