news-details

सारंगढ़ एसडीएम(IAS) चंद्रकांत वर्मा ने निष्पक्ष जांच कर फर्जी जाति प्रमाण पत्र के आधार पर शिक्षक बने 15 लोगों को किया बेनकाब,जिला पंचायत CEO ने सहायक शिक्षकों की सेवा समाप्ति सहित उन पर एफआईआर दर्ज करने का आदेश!..

जगन्नाथ बैरागी.फर्जी जाति प्रमाण पत्र बनवा कर पिछले कई वर्षों से नौकरी कर रहे 15 सहायक शिक्षकों की सेवा समाप्ति सहित उन पर एफआईआर दर्ज करने का आदेश जिला पंचायत सीईओ रिचा प्रकाश चौधरी ने जारी किया है।

जो जानकारी सामने आ रही है उसके मुताबिक वर्ष 2005 से 2012-13 के !बीच 6 माह के लिए अस्थाई जाति प्रमाण-पत्र सहित अन्य प्रमाण पत्र बनवा कर बरमकेला एवं सारंगढ़ क्षेत्र में सहायक शिक्षक के पद पर कार्यरत है। लेकिन अब तक स्थाई प्रमाण पत्र जमा नहीं किए गए। जिला पंचायत सीईओ से पूर्व में उक्त शिक्षकों के विरुद्ध शिकायत हुई थी जिसमें यह कहा गया था कि इन शिक्षकों की ओर से फर्जी जाति प्रमाण पत्र बना कर नौकरी प्राप्त की गई है। ऐसे में जिला पंचायत सीईओ ने 11 जुलाई 2017 को जनदर्शन में कलेक्टर को प्राप्त शिकायत के आधार पर तत्कालीन एसडीएम सारंगढ़ को जांच का जिम्मा सौंपा था लेकिन यह जांच तत्कालीन एसडीएम 4 साल तक पूरा नहीं कर सके। जब सारंगढ़ में नए एसडीएम चंद्रकांत वर्मा आए तो जांच की गति तेज हुई और अंततः फर्जी जाति प्रमाण पत्र बनवा कर नौकरी कर रहे हैं 15 सहायक शिक्षक बेनकाब हो गए और अब जांच प्रतिवेदन के आधार पर जिला पंचायत सीईओ रिचा प्रकाश चौधरी ने एफआई आर का आदेश जारी कर दिया है।


27 शिक्षकों के खिलाफ थी शिकायत
बरमकेला क्षेत्र के ग्राम झनकपुर निवासी मुरलीधर चौहान ने जुलाई 2017 में कलेक्टर के जनदर्शन में 27 शिक्षकों के खिलाफ शिकायत की थी जिसमें फर्जी जाति प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी करना बताया गया था एसडीएम सारंगढ़ की ओर से जब पड़ताल पूरी की गई तो यह पता चला कि 27 में से 15 शिक्षक ही फर्जी जाति प्रमाण- पत्र का सहारा लेकर अब तक नौकरी कर रहे थे जिनकी सेवा समाप्ति और f.i.r. करने का आदेश जारी किया गया है।

जब से श्री चंद्रकांत वर्मा सारंगढ़ में पदभार ग्रहण किये हैं,प्रतिदिन प्रसाशनिक ढांचा को दुरुस्त करने में लगे हैं। एक आम जनता भी अपनी समस्याओं को लेकर सीधे sdm से रूबरू हो सकते हैं। कहीं भी किसी समस्याओं के लिए दिन रात सारंगढ़ के बेहतरी के लिए लगे हैं, जिससे निकम्मे कर्मचारियों में दहशत का माहौल ब्याप्त है और कर्मठ कर्मचारियों में हर्ष व्यापत है। श्री चंद्रकांत वर्मा की कार्यविधि और तेजतर्रारपन जन मानस में भूतपूर्व क्लेक्टर अमित कटारिया की झलक सारंगढ़ वासियों को मिल रही है।


ad

loading...