news-details

पिस्टल की नोक पर बंधक बना कर करते थे डीजल की चोरी, विरोध करने पर कर देते थे हत्या, पुलिस ने किया खुलाशा....

महासमुंद पुलिस की टीम ने सभी मध्यप्रदेश के विभिन्न जिलों से आकर डीजल की चोरी करने वाले 7 लोगों को पकड़ा है. आरोपी अपने ट्रक में एक गुप्त चेम्बर बना के 1000-1500 लीटर कि एस्ट्रा डीजल टंकी बनवाये है जिससे ये रात को ये खडी तेल के टेन्करों एवं ट्रकों के हजारों लीटर डीजल चोरी कर लेते है.

पुलिस ने बताया कि चोरी करने के दौरान टेन्कर एवं ट्रक ड्राईवर यदि उठ जाता है तो आरोपी उसे अपने पिस्टल की नोक पर बंधक बना कर अराम से अपना डीजल चोरी करने का काम कर लेते है और ड्राईवर के ज्यादा विरोध करने पर पास में रखे हथियार पिस्टल एवं लोहे के रॉड आदि से हमले कर चोट एवं हत्या तक कर देते है. ऐसा उन्होंने मध्यप्रदेश के इन्दौर में 02 घटनाओं में करना बताया जिसमें इन्होंने डीजल चोरी करने के दौरान ड्राईवर द्वारा विरोध करने पर उसकी हत्या कर दी.

पुलिस ने बताया कि 05 व्यक्ति अपने अन्य 02 साथिायों सोनू बाल्मिकी व मो. अनिश के साथ मिल करके सरायपाली एवं सिंघोडा सहरदी क्षेत्रों में किसी पेट्रोल पम्प व कही जहाँ मालदार व्यपारी के घर में डकैती डालने की योजना बनाये थे. जिसके आधार पे आरोपिगण एवं वाहनों की तलाशी ली गई तलाशी दौरान ट्रक ड्राईवर मो. अनिश पिता जमील खान के कब्जे से 01 नग ऑटो मेटिक पिस्टल, 01 नग मैगजिन व 02 नग जिन्दा कारतूस बरामद किया गया एवं ट्रक की तलाशी लेने पर टक में अवैध रूप से ड्रम एवं जरकिन में हजारों लीटर डीजल बरामद किया गया व आरोपियों से 01 नग लोहे का सब्बल, 02 नग हथोडा, 02 नग छैनी, 01 नग चाईनिज चाकू, 01 स्टील का रॉड एवं नगदी 60,000/- रूपये बरामद किया गया है.

पुलिस ने बताया कि आरोपियोंगण के संबंध में मध्यप्रदेश की स्पेशल टास्क फोर्स ने भी काफी सहयोग किया एवं आरोपीगणों में सोनू बाल्मिकी, मो. अनिश पिता जमील, सोदान पिता भीमसिंग भिलाला का मध्यप्रदेश मे भी कई मामलों में जिनमें डकैती, हत्या, लूट व हत्या का प्रयास, चोरी आदि मामलों मोस्ट वांटेड होना बताया गया है.  

पुलिस ने बताया कि प्रकरण में उपयोग में लाई गई स्कार्पियों क्रमांक MP 15 CA 4358 एवं टाटा 10 चक्का ट्रक क्रमांक MP 09 HG 8468 के संबंध में भी सही जानकारी नही मिल पाई जो संम्भवतः चोरी की हो सकती है मामले में पुलिस ने  आरोपीगण के विरुद्ध थाना सरायपाली में धारा 394, 398, 399 भादवि. कायम विवेचना में लिया है. वह अन्य जानकारी प्राप्त की जा रही है.

इसके पहले पुलिस अधीक्षक महासमुंद को इस बात कि सूचना मिली कि उडिसा की तरफ से एक सफेद रंग की स्कार्पियों क्रमांक MP 15 CA 4358 में कुछ लोग सवार है जिनकी गतिविधिया काफी संदिग्ध लग रही है. जिस पर पुलिस अधीक्षक महासमुन्द ने थाना सिंघोडा एवं सरायपाली पुलिस को उक्त वाहन को रोक कर चेक करने हेतु निर्देशित किया गया जो कि स्कार्पियों के वाहन चालक द्वारा थाना सिघोडा के पास नाका में पुलिस टीम को देख कर अपने वाहन को तेज गति से चलाते हुये बेरिकेटिंग को तोड कर सरायपाली की ओर भागने लगे.

जिसके बाद सरायपाली के पास थाना सरायपाली के पुलिस स्टाफ के द्वारा नवागढ बेरियर में तैनात टीम द्वारा नाकेबंदी की गई जिसे फिर से वाहन चालक द्वारा तोड करके तेज गति से सारंगढ रोड की तरफ अपने वाहन को भगाने लगा. जिसे टीम द्वारा सारंगढ रोड के पास ओवरटेक कर रोका गया. गाडी रूकने के साथ ही वाहन चालक एवं वाहन के सामने बैठा आदमी जंगल की तरफ भागने लगे जिन्हें पकड करके थाना सरायपाली लाया गया तथा थाना ला करके विस्तृत पूछताछ करने पर स्कार्पियों के वाहन चालक ने अपना नाम सोनू बाल्मिकी पिता पिरू लाल बाल्मिकी उम्र 28 वर्ष ग्राम छापिहैडा जिला शाजापुर, मध्यप्रदेश का रहना बताया.

वाहन में बैठे दूसरे व्यक्ति ने अपना नाम कुरूध्वज तांडी पिता क्षेत्रमोहन तांडी उम्र 24 वर्ष ग्राम केन्दुपाली जिला नवापडा ओडिसा का रहना बताया. जिनसे गहन से पूछताछ करने पर बताया कि यह अपने 05 अन्य साथियों के साथ मध्यप्रदेश के इन्दौर, भोपाल से छत्तीसगढ उक्त स्कार्पियों वाहन एवं 10 चक्का ट्रक क्रमांक MP 09 HG 848 में आये है और सरायपाली व सिघोडा के आस-पास खडे तेल के टेन्करों एवं ट्रकों से डीजल चुराते है और अपने सभी साथियों के साथ पेट्रोल पम्प को लूटने व रेकी करके किसी बडे अशामी के घर में डकैती डालने का योजना भी बना रहे है.

पुलिस ने स्कार्पियों वाहन में बैठे व्यक्ति कुरूध्वज ताण्डी के पास से 01 नग देशी कट्टा व 02 नग जिन्दा कारतूस बरामद किया. और आरोपियों कि तत्काल उक्त बातों की सूचना पुलिस अधीक्षक महासमुन्द महोदय को अवगत कराके उक्त दोनो आरोपियों के अन्य 05 साथी एवं ट्रक के पतासाजी हेतु 03 टीम तैयार की गई.

जिसमें पहला टीम अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) सरायपाली विकास पाटले व दूसरे टीम सायबर सेल महासमुन्द प्रभारी उप निरीक्षक संजय सिंह राजपूत तथा तीसरें टीम थाना सिंघोडा प्रभारी उप निरीक्षक चन्द्रकांत साहू के द्वारा सिंघोडा एवं सरायपाली एवं बसना एरिया की तरफ रवाना हुये तभी पुलिस टीम को खम्हारपाली के आगे वही ट्रक MP 09 HG 8468 आता दिखा. जिसे पुलिस टीम द्वारा चारों ओर से घेराबंदी कर रोक कर पकडा गया. ट्रक पकडने पश्चात् ट्रक में 05 संदिग्ध व्यक्ति बैठे मिले जिनसे पूछताछ करने पर अपना नाम

(01) मो. अनिश पिता जमील खान उम्र 30 वर्ष पता हजराना वार्ड नं. 20बी गोसिया नगर इन्दौर थाना हरजाना जिला इन्दौर मध्यप्रदेश

(02) जावेद उर्फ गोलू पिता भूरेखां उम्र 28 वर्ष पता हजराना संजीव नगर थाना हजराना जिला इन्दौर मध्यप्रदेश

(03) इस्माइल पिता सिकन्दर खान उम्र 25 वर्ष पता मालीखेडी थाना बेढछा जिला शाजापुर

(04) ब्रज मोहन पिता गजराज सिंह ठाकुर उम्र 24 वर्ष पता पोलाय थाना सुन्दरसिंह जिला शाजापुर मध्यप्रदेश

(05) सोदान पिता भीमसिंग भिलाला उम्र 26 वर्ष पता दुपडा पोस्ट दुपडा थाना शाजापुर जिला शाजापुर मध्यप्रदेश के रहने वाला बताये.

पुलिस द्वारा पूछताछ करने पर आरोपी टाल-मटोल करने लगे और पुलिस को संतोषप्रद जवाब नही दिये और ईधर-उधर भागने का प्रयास करने लगे. जिसके  पश्चात् पुलिस का संदेह और बढता गया. और कार्रवाही कर पुलिस ने यह पूरा खुलाशा किया.

यह सम्पूर्ण कार्यवाही पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर के मार्गदर्शन में अति0 पुलिस अधीक्षक मेघा टेम्भूरकर साहू एवं अनु0अधिकारी (पु) सरायपाली विकास पाटले के निर्देशन में थाना प्रभारी सरायपाली मल्लिका बनेर्जी तिवारी, सायबर सेल महासमुन्द प्रभारी उप निरीक्षक संजय सिंह राजपूत व थाना सिंघोडा प्रभारी चन्द्रकान्त साहू, सउनि. विकास शर्मा, सउनि. नवधाराम खाण्डेकर, सउनि. विजय मिश्रा, प्रआर. प्रकाश नंद, मिनेश ध्रुव आर. छत्रपाल सिन्हा, युगल पटेल, ललित यादव, त्रिनाथ प्रधान, रवि यादव, हेमन्त नायक, योगेन्द्र दुबे एवं थाना स्टाफ द्वारा की गई है.

ad

loading...