news-details

विवेक साय बने बाराडोली कराते व खेलकूद साधना सभा छत्तीसगढ़ जिला जशपुर के जिलाध्यक्ष

बाराडोली कराते व खेलकूद साधना सभा छत्तीसगढ़ के प्रांताध्यक्ष भोजराज साहू व प्रांतीय सचिव अक्षय कंवर के निर्देशानुसार व उपस्थित सदस्यों की आम सहमति से विवेक साय पिता-आनंद साय को जशपुर जिले का जिलाध्यक्ष नियुक्त किया गया।साहित्य साधना सभा छत्तीसगढ़ के प्रांताध्यक्ष व काव्य संसद के संस्थापक पुखराज यादव प्राज ने बधाई देते हुए कहा कि खेलकूद व जीवन में आत्मरक्षा की विशेष ट्रेनिंग इंसान को मन से मजबूत बनाती है।

इस एकदिवसीय कराते एवम आत्मरक्षा की विशेष ट्रेनिंग में वर्चुअल रूप से सभा को संबोधित करते हुए काव्य संसद के सहसंस्थापक व प्रांतीय सचिव सुन्दर लाल डडसेना मधुर ने कहा कि खेल व कराते जीवन के अभिन्न अंग हैं,न केवल कराते से आत्मरक्षा की जा सकती है,बल्कि स्वस्थ भी रहा जा सकता है। साहित्य साधना सभा के उपप्रान्ताध्यक्ष डिग्रिलाल जगत जी ने वर्चुअल से जुड़कर सभा को संबोधित किया और उन्होंने कहा खेल और स्पोर्ट्स हमारे लिए बहुत ही लाभदायक है क्यों कि वे हमें समयबद्धता धैर्य अनुशासन समूह में कार्य करना और लगन सिखाते हैं। यदि हमें खेल का नियमित अभ्यास करें तो हम अधिक सक्रिय और स्वस्थ रह सकते हैं।

इस विशेष शिविर में विवेक साय (जिलाध्यक्ष जशपुर-बाराडोली कराते व खेल साधना सभा),भोजराज साहू(प्रान्तीय अध्यक्ष) अक्षय कंवर (प्रान्तीय सचिव) के द्वारा विशेष ट्रेनिंग दिया गया,जिसमें मनोज कुमार पैकरा,अरविंद साय, कुणाल साय,गुलाब साय,पारस साय, शिवकुमार,दयासिन्धु सेठ,अश्विनि कंवर,ऋतुराज,कौशल साय,उत्तम,दीपक, रवि,मनोज दुधकिया,मानू दुधकिया,भानुप्रताप पटेल,हरिलाल बरिहा सहित गांव के अन्य युवाओं ने इस शिविर में भाग लिया। 

ad

ad

loading...