news-details

वीडियो कांफ्रेसनिंग के माध्यम से CM बघेल ने जीपीएम जिला में मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना को दी मंजूरी..

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर आज जिले भर में जगह-जगह पौधरोपण कर आमजन को पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया इस मौके पर मरवाही विधायक कृष्ण कुमार ध्रुव जिले की कलेक्टर नम्रता गांधी सहित जिले भर के नेताओं अधिकारीयो ने पौधा लगाया । डोंगरिया कोविड सेंटर में आयोजित पौधरोपण कार्यक्रम में विधायक कृष्ण कुमार ध्रुव जिला कलेक्टर नम्रता गांधी पहुंचे, पौधरोपण करने लोगों से की अपील कहा की एक पौधा अपने घर बाड़ी खेत में जरूर लागए इस अवसर पर मरवाही विधायक कृष्ण कुमार ध्रुव ने कहा कि पर्यावरण संतुलन के लिए पौधरोपण जरुरी है। आज हम सब को कोरोना युग में हम सब को ज्ञात हो गया है कि वृक्ष कितना महत्वपूर्ण होता है हमारे लिये क्योकि वो हमें ऑक्सीजन प्रदान करता है । साथ मे माननीय विधायक जी ने जिला प्रवक्ता वीरेंद्र बघेल की मुहिम एक पौधा कोरोना पीड़ितों को इस अभियान की सराहना की और कहाँ हम इसको और आगे बढ़ाएंगे



उसके बाद जिला मुख्यालय में माननीय छत्तीसगढ़ शासन भूपेश बघेल जी की वर्चुअल बैठक में शामिल हुए जहां माननीय मुख्यमंत्री जी ने संबोधित करते हुए कहाँ की छग में धान के बदले पौधरोपण को ज्यादा से ज्यादा प्रोत्साहित करने राज्य सरकार 1 जून से मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना लागू कर रही है। योजना में सरकार निजी भूमि पर धान के बदले पौधारोपण करने पर 3 साल तक प्रति एकड़ 10- 10 हजार रुपए मिलेगा। इसमें निजी भूमि की उपलब्धता अनुसार व सभी ग्राम पंचायत, संयुक्त वन प्रबंधन समितियां योजना का लाभ लेने के पात्र होंगे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में 18 मई को मंत्रिमंडल ने मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना को मंजूरी दी थी। इस योजना में जिन किसानों ने खरीफ वर्ष 2020 में धान की फसल ली है। यदि वे धान फसल के बदले अपने खेतों में पौधरोपण करते हैं तो उन्हें आगामी 3 वर्षों तक प्रतिवर्ष 10 हजार रुपए प्रति एकड़ प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। ग्राम पंचायतों के पास उपलब्ध राशि से यदि वाणिज्यिक वृक्षारोपण किया जाएगा, तो एक वर्ष बाद सफल वृक्षारोपण की दशा में संबंधित ग्राम पंचायतों को शासन की ओर से 10 हजार रुपए प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी ।



क्लासिफाइड विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 9131581090

क्लासिफाइड