news-details

आरोपियों को पकड़ने गयी पुलिस की टीम पर लाठी डंडे से हमला...कोरोना रिपोर्ट पाॅजिटिव आने के बाद पांच आरोपी कोविड सेंटर से भागे...

पूरी घटना सलौनीकला भटगांव की है। पीड़ित राज देवांगन ने पुलिस शिकायत में बताया कि, 14 जून को जब वो काम करके घर लौटा तो खाना खाने के बाद टीवी देख रहा था। इस दौरान रात में करीब साढ़े 11 बजे के आसपास मोेहल्ले के सात से आठ लड़के उसके घर में घुसे और उसकी मां के साथ धक्का मुक्की करते हुये मारपीट करने लगे। ये देखकर उसका छोटा भाई गोपेश देवांगन और वो खुद बीच बचाव के लिए पहुंचा तो आरोपियों ने लाठी डंडे से उनसे भी मारपीट शुरू कर दी।भटगांव थाना के सलौनीकला में थाना प्रभारी सहित पुलिसकर्मियों से मारपीट मामले में गिरफ्तार सात आरोपियों में पांच आरोपी कोरोना पाॅजिटिव पाये गए है। रिपोर्ट पाॅजिटिव आने के बाद सभी आरोपियों को कोविड सेंटर में भर्ती कराया गया था, जहां से सभी आरोपी पुलिस को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गये थे। आरोपियों के फरार होने की सूचना के बाद पुलिस ने घेराबंदी कर सभी को फिर से गिरफ्तार कर कर लिया है।...

विवाद के दौरान पीड़ित की मां ने भटगांव थाना को इसकी शिकायत की। शिकायत के बाद मौके पर पुलिस की टीम पहुंची तो सभी आरोपी वहां से भाग निकले, जिसके बाद थाना प्रभारी एचआर रात्रे और अन्य पुलिसकर्मी आरोपियों की खोज में जुट गयी। कुछ देर बाद सभी आरोपी हाथों में लाठी-डंडे लेकर थाना प्रभारी के पेट्रोलिंग गाड़ी के पास पहुंचे और राज देवांगन, गोपेश देवागंन से मारपीट करने लगे। थाना प्रभारी रात्रे ने जब बीच बचाव की कोशिश की तो सभी आरोपियों ने उनका मोबाइल तोड़कर उनसे भी मारपीट करनी शुरू कर दी। मारपीट में एसआई एचआर रात्रे सहित कई पुलिसकर्मियों को चोट आयी है। साथ ही आरोपियों ने पुलिस की पेट्रोलिंग वाहन में भी तोड़फोड़ की।

इस मामले की शिकायत जब पुलिस के उच्च अधिकारियों को मिली तो पुलिस बल भेजकर सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार आरोपियों में उमेश पनका, प्रताप टण्डन, अप्पु पनका, राज यादव, विशाल सतनामी, खडक सतनामी, भुनेश्वर साहू है। इन साभी आरोपियों का कोरोना टेस्ट कराया गया तो उनमें से पांच लड़कों की कोरोना रिपोर्ट पाॅजिटिव आई, जिसके बाद सभी को कोविड़ सेंटर में भर्ती कराया गया। बीती रात कोविड़ सेंटर से पांचों आरोपी डाॅक्टर और पुलिस को चकमा देकर फरार हो गये, जिन्हें रात में ही घेराबंदी कर पकड़ा गया। फिलहाल सभी आरोपी कोविड सेंटर में हैं। यहां पर सभी का इलाज जारी है। आरोपियों के खिलाफ थाने में 147, 148, 149,186, 332, 353, 427, 307, के तहत मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।