news-details

कोरोना के तीसरी लहर के बीच छत्तीसगढ़ में गुरुवार को एक ही दिन में दर्ज हुई सात मौतें, अलग - अलग जिलों के हैं सभी

तीसरी लहर के दौरान यह पहली बार हुआ है जब एक दिन में सात मौतें दर्ज हुई है. डेथ ऑडिट रिपोर्ट से सामने आया है कि दूसरी लहर की तरह इस बार सांस फूलने अथवा शरीर में ऑक्सीजन की कमी से मौत का आंकड़ा बेहद कम है. पता चला है कि अभी अस्पताल के कोविड ICU में 18 लोग भर्ती हैं तो उनमें से 15 लोग ऐसे हैं, जिन्हें दूसरी बीमारियों अथवा एक्सीडेंट की वजह से लाया गया था. यहां टेस्ट हुआ तो वे कोविड-पॉजिटिव आए.


सूत्रों के अनुसार, पिछले दिनों जो मौतें हुईं उसमें एक मरीज के पूरे शरीर में कैंसर फैल गया था. दो मरीजों को ब्रेन हैमरेज था जबकि एक मरीज को एक्सीडेंट में सिर की चोट की वजह से लाया गया था. बताया जा रहा है, अभी तक हुई मौतों में अधिकतर की अधिक उम्र, दूसरी गंभीर बीमारियों और बेहद कमजोर प्रतिरोधक क्षमता की वजह से ही जान गई है. पिछले 13 दिनों में प्रदेश के 35 मरीजों की जान जा चुकी है. इसमें से 15 लोगों की जान अकेले रायपुर जिले में गई है. गुरुवार को मरने वालों में 2 दुर्ग के और एक-एक राजनांदगांव, रायपुर, बलौदाबाजार, कोरबा और जांजगीर-चांपा के मरीज थे.



क्लासिफाइड विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 9131581090

क्लासिफाइड