news-details

मानवीयता के गुण नहीं बचे : तड़प-तड़प कर मरता रहा एक युवक लोग मौत का वीडियो बनाते रहे

जब जख्मी युवक को अस्पताल ले जाने की जरूरत थी तो वीडियो बनाने वाला शख्स भी अलग-अलग एंगल से तस्वीरें लेकर अपनी कलाकारी का डंका पीटने में मशगूल था

खून से लथपथ सड़क पर तड़पता एक युवक पल पर मौत के मुंह में जा रहा था और वहां मौजूद तमाशबीन भीड़ में शामिल लोग मौत के तांडव का वीडियो बनाते रहे. बिहार के मुजफ्फरपुर और सीतामढ़ी की सीमा से बुधवार की शाम मानवता को शर्मशार करने वाला एक वीडियो वायरल हो रहा है. हालांकि न्यूज18 इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता, लेकिन वीडियो बनाने वाले शख्स की बैकग्राउन्ड से जो आवाज आ रही है उससे तो यही लगता है कि उस भीड़ में किसी शख्स में मानवीयता के गुण नहीं बचे थे. 

दरअसल जब जख्मी युवक को अस्पताल ले जाने की जरूरत थी तो वीडियो बनाने वाला शख्स भी अलग-अलग एंगल से तस्वीरें लेकर अपनी कलाकारी का डंका पीटने में मशगूल था. घटना मुजफ्फरपुर सीतामढी की सीमा सैदपुर की है. वीडियो बनाने वाले शख्स की आवाज बताती है कि जख्मी युवक मुजफ्फरपुर के औराई के भरथूआ निवासी भगीरथ मांझी का बेटा संतोष मांझी था. 


बुधवार की शाम को वह छठ व्रत का सामान खरीदने बाइक से सैदपुर गया था. वहां किसी अज्ञात वाहन ने उसे धक्का मार दिया जिसमें युवक का सिर बुरी तरह से फट गया. सड़क पर पड़े युवक के सिर से खुन की धारा बह रही थी और वहां मौजूद भीड़ को पुलिस और मीडिया की तलाश थी जो घायल को अस्पताल ले जाता. 

तस्वीर गवाह है कि जब यह वीडियो बनाया गया तो युवक जिन्दा था और बार-बार अपना सिर हिला रहा था, लेकिन मौजूद भीड़ तमाशबीन की भूमिका से ज्यादा कुछ भी करने को तैयार नहीं हुई. खबरों के मुताबिक युवक ने तड़प-तड़पकर  प्राण त्याग दिए पर किसी ने जीते जी उसे अस्पताल तक नही पहुंचाया.

ad

ad

loading...