news-details

बसना के क्वारंटीन सेंटरों की नब्ज टटोल संदिग्धों को भी दी गई विशेष समझाईश

क्वारंटीन के नियमों का पूर्ण-रूपेण पालन हो और कोरोना संक्रमण की संभवना भी क्षीण हो, इसके लिए स्वास्थ्य महकमेे के आला अफसरों ने जमीनी स्तर पर मुआयना कर विकासखंड बसना क्षेत्र में मजदूरों से मुलाकात की और हाल-चाल पूछते-पूछते लगे-हाथ सावधानी समझाईश भी दे डाली

महासमुंद 22 may 2020/ कुल ग्यारह हजार दो सौ इकसठ संदिग्ध यात्रियों को क्वारंटीन कर अब तक छह सौ पचास नमूनों को जांच के लिए राजधानी भेजने वाला जिला कोरोना के संक्रमण घेराव से बचा हुआ है। गी्रन जोन में आने वाले महासमुंद में जिला प्रशासन और स्वास्थ्य महकमे की जोर-आजमाईश भी निरंतर जारी है। इसे और पुख्ता करते हुए आला अधिकारियों द्वारा मौका निरीक्षण अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में कलेक्टर श्री सुनील कुमार जैन के निर्देशानुसार मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ एसपी वारे के मार्गदर्शन में जिला मलेरिया अधिकारी डाॅ वाई के सिंह एवं राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्री संदीप ताम्रकार विकासखंड बसना पहुंचे।

जहां, उन्होंने सबसे पहले प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लंबर का मुआयना किया साथ ही हाल में मुंबई से आए पांच संदिग्धों को आश्रय देकर क्वारंटीन करने वाले और डोगरीपाली का निरीक्षण भी किया। पहले तो कोरोना संक्रमण एवं रोकथाम दल में आपातकालीन सेवाएं प्रदान कर रहे स्वास्थ्य अमले को सोशल डिस्टिेसिंग एवं क्वारंटीन के नियमों को भली प्रकार पालन करवानेे के निर्देश दिए गए इसके बाद बायो मेडिकल वेस्ट का सुनियोजित प्रबंधन बनाए रखने के लिए कहा गया।

श्री ताम्रकार से मिली जानकारी के मुताबिक इस क्षेत्र में बाहरी राज्यों से आए बीस मजदूरों को क्वारंटीन कर उनमें से छह संदिग्धों के स्वैब नमूने कोरोना जांच के लिए राजधानी एम्स भेजे जा चुके हैं। तत्संबंध में निरीक्षणकर्ताओं ने अद्यतन जानकारी हासिल कर कोरोना निगरानी दस्ते को नियमित रूप से जांच करते रहने के लिए कहा। बताया जा रहा है कि संबंधितों छह संदिग्ध मरीजों में से एक संदिग्ध प्रकरण ऐसा भी है जो छत्तीसगढ़ पहुंचने के पहले ही मलेरिया पाॅजिटिव मिला था।

ऐसे में, डाॅ सिंह ने मलेरिया पीडित कोरोना के संदिग्ध मरीज को क्वारंटीन के नियमों का पालन करने के साथ-साथ आगामी चैदह दिनों तक मलेरिया का कोर्स पूरा करने ही समझाईश भी दी है। विभागीय सूत्रों के मुताबिक जिले में कोरोना वायरस संक्रमण एवं रोकथाम प्रयासों में कसावट लाने के उद्देश्य से यह निरीक्षण किया गया और आने वाले समय में भी इस तरह के क्रियाकलाप जारी रहेंगे।





ad

ad

ad
loading...