news-details

साँपो को पकड़ने में माहिर ये हैं महासमुंद पुलिस के विकास शर्मा, इनके आने से सरपंच पति कहने वालों में मचा हडकंप.

कृपया सरपंच पति बता कर चौकी में प्रवेश न करे,  जनता की समस्याओं के लिए जनप्रतिनिधी ही प्रवेश करें नोटिस चस्पा कर सुर्खियों में है.

ये हैं महासमुन्द पुलिस के विकास शर्मा,  जो अभी जिले के बागबाहरा ब्लाक में ओडीसा सीमावर्ती गाँव बुन्देली के चौकी प्रभारी हैं.

साँप और समाज के आस्तीन के साँपो को पकड़ने में माहिर विकास अपने नवाचार के कारण हमेशा सुर्खियो में रहते है.  अभी इन्होने अपने चौकी के बाहर एक नोटिस चस्पा कर दिया है, जो काफ़ी वायरल हो रहा है और प्रशंसनीय भी है, उसमे लिखा है  कृपया सरपंच पति बता कर चौकी में प्रवेश न करे,  जनता की समस्याओं के लिए जनप्रतिनिधी ही प्रवेश करें.

जिले के बुंदेली चौकी प्रभारी विकास शर्मा ने चौकी में एक नोटिस बोर्ड लगवाया है,  जिसमें लिखा है-कृपया, सरपंच पति (एसपी) बताकर चौकी में प्रवेश न करें. लोगों की समस्या के लिए चुने हुए जनप्रतिनिधि ही प्रवेश करें.


इस नोटिस बोर्ड के बाद आस-पास के पंचायतों में हडकंप हैं, जहां अधिकांश पंचायतों में महिला सरपंच पतियों का दबदबा है. चौकी प्रभारी विकास शर्मा ने बताया कि कई बार ऐसे मौके आते हैं, जब लोग खुद को एसपी (सरपंच पति) बताते हैं, और एसपी का अर्थ पूछने पर सरपंच पति कहते हैं. चुनीं हुई महिलाओं को आगे आने का मौका मिले, इसलिए ऐसा किया गया है.


उन्होंने निवेदन किया कि लोगों की समस्याओं के लिए चुने हुए जनप्रतिनिधि ही खुद आगे आएं. इसके पहले गुटखा छोडो बच्चों, आओ स्कुल चलें हम का नारा देकर गुटखा व अन्य नशे का सेवन करने वाले बच्चों को कापी, पेन, रबर, पेन्सिल बाँट कर पढाई करने व किसी भी प्रकार का नशा न करने का प्रण दिलाया.


ग्रामीण इलाकों में बहुतायत बिकने वाली महुआ दारु बनाने व बेचने वालो पर शिकंजा कसने व्यापरियो को उन्हे महुआ उपलब्ध नही कराने के लिए तैयार कर महिलाओ और ग्रामीणो की समिति बनाकर गांव को शराबमुक्त गांव बनाने का संकल्प लिया.

17 सालों में लगभग 10,000 से भी अधिक सांपो की जान बचा चुके विकास शर्मा पल भर में जहरीले सांपो को पकड़ कर उन्हें जंगल में छोड़ आते हैं.


विकास शर्मा  ने सीजी संदेश डॉट कॉम को  बताया कि कक्षा नौवी में   उन्होंने अनजाने में एक जहरीला कराट सांप पकड़ लिया. जिसका उन्हें बाद में पता चला. पर उन्हें इस बात का यकीन नहीं हुआ कि वह कराट सांप था. उन्होंने बताया कि अक्सर लोग जिसके शरीर में पट्टी पट्टी होता है उसे ही करात सांप कह देते है. इसके बाद से उन्होंने सांपों के विषय में स्टडी करना शुरू किया और अब वे इस पर पुरे छत्तीसगढ़ के लिए एक किताब भी लिख रहें है.


उन्होंने बताया कि जहरीले सापों से बहोत सारे मिलते जुलते सांप अपने आप को बचाने के लिए, जहरीले सापों से अपना रूप परिवर्तन कर लिए ताकि वे शिकार ना हों पायें. उन्होंने कहा कि क्षेत्र में बहोत सारे सांपों को लेकर भ्रम है जबकि वे जहरीले भी नहीं है. इन्ही सब भ्रांतियों को दूर करने उन्होंने कई सारे सांपों का फ़ोटो खीचा है, जल्द की एक किताब प्रकाशित की जायेगी.


निचे आप विकास शर्मा  द्वारा पकड़ा गया एक सांप देख सकते है. किसे  कैसे कुछ ही मिनट में विकास सांपों को बड़ी आसानी से पकड़ लेते हैं.   इसके आलावा यहाँ क्लिक कर आप फेसबुक से अन्य विडियो भी देख सकते है.            


ad

loading...