news-details

जानें मकर संक्रांति का शुभ मुहूर्त, इस तरह पूजा करने से मिलेगी धन-संपत्ति

मकर संक्रांति 14 जनवरी को है, पौष माह की शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि को मकर संक्रांति का त्योहार मनाया जाता है. मकर संक्रांति की तिथि सूर्य देव की चाल तय करती है. जब सूर्य धनु से निलकर शनि देव की राशि मकर में प्रवेश करते हैं, तो मकर संक्रांति का त्योहार मनाया जाता है. इस साल सूर्य का मकर राशि में प्रवेश समय अलग-अलग है.

बनारस के पंचांग में सूर्य के मकर राशि में गोचर रात्रि में बताया गया है, जबकि प्रसिद्ध पंचाग ब्रजभूमि और मार्त्तण्ड पंचांग के अनुसार सूर्य का गोचर 14 जनवरी को देपहर के समय होगा. चलिए जानते हैं आखिर मकर संक्रांति का सही शुभ मुहूर्त क्या है.


क्यो है 14 जनवरी मकर संक्रांति की सही तिथि

सूर्य का मकर राशि में गोचर सूर्यास्त से पहले होगा, इसलिए मकर संक्रांति के लिए सही तिथि 14 जनवरी ही है. इस दिन सूर्य देव मकर राशि में प्रवेश करते हैं और उनकी पूजा की जाती है. यह त्योहार सूर्य देव को समर्पित होता है और इस दिन लोग सुबह जल्दी स्नान करके उनकी पूजा करते हैं. तांबे के लोटे में जल, फूल, तिल, हल्दी-चंदन मिलाकर सूर्य देव को अर्पित किया जाता है. इस दिन सूर्य देव और विष्णु भगवान की पूजा करने से आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे.

जानें क्या है मकर संक्रांति का शुभ मुहूर्त

चिंतामणि ग्रंथ के अनुसार, मकर संक्रांति का पुण्यकाल मुहूर्त सूर्य के संक्रांति समय से 16 घटी पहले और 16 घटी बाद का होता है. इस साल पुण्यकाल 14 जनवरी को सुबह 7 बजकर 15 मिनट से शुरू होगा और शाम को 5 बजकर 44 मिनट तक रहेगा. इस शुभ मुहूर्त में आपको सूर्य देव की पूजा करनी चाहिए और दान करना चाहिए. बता दें कि महापुण्य काल मुहूर्त 9 बजे से 10 बजकर 30 मिनट तक रहेगा और फिर दोपहर 1 बजकर 32 मिनट से 3 बजकर 28 मिनट तक।




क्लासिफाइड विज्ञापन के लिए संपर्क करें : 9131581090

क्लासिफाइड